Colours Name In Hindi And English । रंगों के नाम हिंदी और अंग्रेजी में

Colours Name Pdf Download, Colours name in hindi and english, रंगों के नाम हिंदी और अंग्रेजी में, Colours Name Pdf Download, all color name in hindi and english with pictures, Rango ke Prakar

आज के लेख में आप सभी का सवागत है। अगर आप रगों के बारे में बहुत कुछ जानना चाहते हैं तो आप बिलकुल सही जगह पर आए है। क्योंकि आज के इस लेख में हम आपको Color name in hindi and english में बताएगें और साथ ही साथ Color name in hindi with image, Colors name in hindi with Chart, Rainbow Colors Name in Hindi आदि चीज़ें भी बताएगें।

Colours Name In Hindi And English
Color Name In Hindi And English

Colours name in hindi and english 2023?

हम में से सभी को एक रंग सबसे ज़्यादा पसंद होता है। और हम अपनी सभी चीज़े उसी रंग की लेते व लगाते है। जैसे कि- कपड़े, जूते, डाय़री, बैग आदि।

हमे सबसे ज़्यादा जानकारी केवल अपने पसंदीदा रंग के बारे में ही होती है। या फिर ज़्यादा से ज़्यादा उन रगों के बारे में होती है जिन्हे हम बार बार देखते रहते है। लेकिन जो हमारे आस पास रंग मौजूद होते है उनके अलावा भी बहुत सारे रंग होते है।

हमें सभी रगों के नाम अंग्रेज़ी व हिन्दी दोनों में याद होने चाहिए। अगर आप छोटे है या फिर स्कूल के छात्र है तो आपको रंगों का बहुत ही अच्छा ग्यान होना चाहिए। इसी लिए आज के इस लेख में आप रंगों के बारे में सब कुछ जानने में सक्षम हो जाएंगे।

Colours name in hindi with image?

क्र संरंगो के ImageColor Name in English?Color Name in Hindi?
1.Get Hindi Me HelpWhiteसफेद
2.Get Hindi Me HelpRedलाल
3.Get Hindi Me HelpBlueनीला
4.Get Hindi Me HelpGreenहरा
5.Get Hindi Me HelpBlackकाला
6.Get Hindi Me HelpYellowपीला
7.Get Hindi Me HelpOrangeनारंगी
8.Get Hindi Me HelpPinkगुलाबी
9.Get Hindi Me HelpPurpleबैंगनी
10.Get Hindi Me HelpIndigoजामुनी
11.Get Hindi Me HelpBrownभूरा
12.Get Hindi Me HelpGoldenसुनहरा
13.Get Hindi Me HelpSilverचांदी जैसा रंग
14.Get Hindi Me HelpRubyगहरा लाल रंग
15.Get Hindi Me HelpNavy Blueगहरा नीला
16.Get Hindi Me HelpClayमिट्टी का रंग
17.Get Hindi Me HelpMagentaगहरा गुलाबी रंग
18.Get Hindi Me HelpCyanहरिनील
19.Get Hindi Me HelpOliveजैतून का रंग
20.Get Hindi Me HelpBronzeपीतल रंग
21.Get Hindi Me HelpGreyधुमैला
22.Get Hindi Me HelpMaroonभूरा लाल रंग
23.Get Hindi Me HelpAzureआसमानी रंग
24.Get Hindi Me HelpClayमिट्टी जैसा रंग
25.Get Hindi Me HelpBeigeगहरा पीला
26.Get Hindi Me HelpOff Whiteधूमिल सफ़ेद
27.Get Hindi Me HelpTurquoiseफ़िरोज़ा
28.Get Hindi Me HelpMetallicधातुमय रंग
29.Get Hindi Me HelpAmberभूरा पीला रंग
30.Get Hindi Me HelpGrapeअंगूर का रंग
31.Get Hindi Me HelpRustजंग रंग
32.Get Hindi Me HelpPlumबेर रंग
33.Get Hindi Me HelpLimeचूने का रंग
34.Get Hindi Me HelpMintटकसाल रंग
35.Get Hindi Me HelpIvoryहाथीदांत रंग
36.Get Hindi Me HelpPea-greenमटर हरित
37.Get Hindi Me HelpVioletहलके नीले रंग
38.Get Hindi Me HelpTealहरे रंग की छायादार
39.Get Hindi Me HelpWheatगेहूँ रंग
40.Get Hindi Me HelpMustardसरसों रंग
41.Get Hindi Me HelpAquaपानी जैसा रंग
42.Get Hindi Me HelpPeruपेरू
43.Get Hindi Me HelpGainsboroगेन्सबोरो रंग
44.Get Hindi Me HelpChartreuseहल्का हरे सेब जैसा रंग
45.Get Hindi Me HelpLight Salmonहल्का नारंगी रंग
46.Get Hindi Me HelpDark Salmonगहरा नारंगी
47.Get Hindi Me HelpMistry Roseधुंदला गुलाबी
48.Get Hindi Me HelpNeon Greenपीला हरा
49.Get Hindi Me HelpSnowबर्फ जैसा रंग
50.Get Hindi Me HelpOrange-redसंतरी लाल

Colours name in hindi with Chart?

Colours name in hindi with Charts

Read More- Coordinate Geometry In Hindi | निर्देशांक ज्यामिति क्या है?

Colours Mixing Infographic Guide

Get Hindi Me Help

Download Colours name English Hindi PDF


Top 5 Colours generator Online Sites

Rainbow में कितने रंग होते है – Rainbow Colours Name in Hindi?

rainbow का नाम तो आप सबने सुना होगा। rainbow अक्सर बरसात के बाद आसमान में बन जाता है। rainbow को हिन्दी में इंद्रधनुष कहते है। इंद्रधनुष देखना सबको बहुत ही पसन्द होता है। क्योंकि वह सबको अपने रंगों की वजह से अपनी ओर आकर्षित करता है।

rainbow में सबसे प्रमुख 7 रंग होते हैं। लाल, नारंगी, पीला, हरा, नीला, आसमानी, और बैंगनी। इंद्रधनुष आसमान की एक तरफ से दूसरी तरफ तक फैलता है। इसका मुख्य केंद्र सूर्य होता है।

इंद्रधनुष के अन्दर सात रंग होते है।

  • लाल –  Red
  • नारंगी – Orange
  • पीला – Yellow
  • हरा – Green
  • नीला – Blue
  • जामुनी – Indigo
  • बैंगनी – Violet

रंगो का इतिहास क्या है?

हज़ारों वर्षों से रंग हमारे जीवन में अपनी महत्वपूर्ण जगह बनाए हुए हैं। प्राचीनकाल में रंग का विशेष योगदान रहा है। और साथ ही साथ मुग़ल काल में भारत में रंग कला को अत्यधिक महत्त्व भी मिला है। इसी बीच बहुत सारे नये-नये रंगों का आविष्कार भी हुआ है।

रंगों का इतिहास विश्व के सभी समाजों और संस्कृतियों की महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। प्राचीनकाल में रंगों का इस्तेमाल धार्मिक और आध्यात्मिक आयोजनों, सामरिक रंगभूमि, सामाजिक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों में होता था। तरह तरह के रंगों को विभिन्न भावनाओं, धार्मिक मान्यताओं और संकेतों से जोड़ा जाता था। रंगों का अर्थ मानव आवासों, चित्रकारी, वस्त्र, चित्रकला, संगीत और साहित्य में अच्छी तरह से नज़र आता है।

रंगो के प्रकार कितने होते है – Types of Colours ?

रंगों को दो भागों में बंटा गया है।

  1. समान्यत के आधार पर
  2. वैज्ञानिक के आधार पर

समान्यत के आधार पर रंगों के दो प्रकार है।

  • गरम रंग/उष्ण रंग/Warm Color
  • ठण्डा रंग/cool colors

गरम रंग- ये वो रंग होते है जो गहरे होते है। और साथ ही साथ इन रंगों में लाल रंग का मिश्रण पाया जाता है। अगर जिस रंग में लाल रंग नही पाया जाए तो वो गर्म रंग नहीं कह लाएगा। पीला, नारंगी, लाल व बैंगनी गरम रंग के अन्दर आते हैं। गरम रंग हमेशा गहरे और भड़के हुए दिखाई देते है।

ठण्डा रंग-ये वो रंग होते है जिनमें नीला रंग पाया जाता है। ऐसा कोई भी ठण्डा रंग नहीं होता है, जिसमें नीला रंग न पाया जाए। और साथ ही साथ जिस रंग में नीला रंग नही होता है वो ठण्डा रंग नहीं कहलाता है। नीला, आसमानी व हरा ठण्डे रंग है।

वैज्ञानिक के आधार पर रंगों के तीन प्रकार है।

  • प्राथमिक रंग या मुख्य रंग (Primary Colours)
  • द्वितीयक या गौण रंग (Secondary Colours)
  • तृतीयक रंग ( Tertiary Colour)

प्राथमिक रंग – यह सब मुख्य रंग होते है। इन्ही सब रंगों से दुनिया के सभी रंग बने है।

  1. Red colour – लाल रंग
  2. Yellow colour – पीला रंग
  3. Blue colour – नीला रंग
  4. Green – हरा

इन रंगों को प्राथमिक रंग इसलिए कहा जाता है, क्योंकि इन रंगों को किसी दूसरे रंग की मिलावट की ज़रूरत नहीं होती है। मतलब बाकी सभी रंग किसी न किसी रंग को मिलकर ही बनते है। लेकिन लाल रंग, नीला रंग और पीला रंग बिना किसी दूसरे रंग की सहायता से बनता है। सभी रंगों को इन्ही तीन रंगों की मदद से बनाया जाता है।

लेकिन अब एक वैज्ञानिक के अनुसार हरे रंग को भी प्राथमिक रंग माना गया है। इसलिए लाल, हरा, नीला, और पीला ये चार प्राथमिक रंग है।

द्वितीयक रंग- अगर प्राथमिक रंगों को आपस में मिलाया जाता है तो द्वितीयक रंग बन जाते है। जैसे कि,

  • लाल रंग और नीले रंग को मिलाने पर बैंगनी रंग बनता है।
  • नीले रंग और पीले रंग को मिलाने पर हरा रंग बनता है।
  • पीले रंग और लाल रंग को मिलाने पर नारंगी रंग बनता है।

तृतीयक रंग- जब प्राथमिक और द्वितीयक रंगों को आपस में मिलाया जाता है तो हमें जो रंग मिलते है उन्हे तृतीयक रंग कहते है। जैसे कि,

  1. नीला रंग और हरा रंग को मिलाने से पुदीना रंग मिलता है।
  2. पीला रंग और हरा रंग को मिलाने से चूना रंग मिलता है।
  3. लाल रंग और हरा रंग को मिलाने से भूरा रंग मिलता है।

Read More- Limited Ka Matlab Kya Hota Hai । लिमिटेड का मतलब क्या है?

रंगो का क्या महत्व है – Importance of Colours?

रंगों का महत्व हमारे जिवन में बहुत है। अगर रंग न होते तो हर चीज़ बेरंग सी दिखती। किसी चीज़ में कोई जोश व उत्साह नहीं नज़र आता। रंग हमको अपने जीवन में खुशी, उत्साह, और भावनाओं को बताने का मौका देते है।

रंगों का सही चुनाव हमारे बारे में व हमारे स्वभाव के बारे में लोगों को बताता है। रंगों से जुड़ी सांस्कृतिक परंपराएं, धार्मिक विश्वास और त्योहारों में रंगों का विशेष स्थान है। रंग के मध्यम से हम बीना शब्दों के भावों को समझ पाते है।

रंगो का उपयोग कहाँ होता है?

रंगो का उपयोग हमारे जीवन में बहुत महत्वपूर्ण है। रंग से हम अपने पास के संसार को सजाते हैं। रंग का सही चुनाव हमारे मूड और भावना पर प्रभाव डालता है। जब हम सुंदर और गहरे रंग को देखते हैं, तो हमारे मन को खुशी और उत्साह मिलता है। रंग का उपयोग हमारे घर, व्यवसाय और सामाजिक स्थलों को सुंदर और आकर्षित बनाता है।

रंग से हम अपने व्यक्तित्व को सम्पूर्ण बनाते हैं। इसलिए, हमे रंगों का सही चयन करना चाहिए। जिससे हम उनका सही तरह से इस्तेमाल भी कर सकें और अपने जीवन में खुशियों को बढ़ा सके।

रंगो को मिलकर रंग कैसे बनाये?

  • लाल + पीला = नारंगी
  • लाल + नीला = जमुनी
  • लाल + हारा = सागोला
  • हारा + नीला = शमामा
  • लाल + सफ़ेद = गुलाबी
  • पीला + नीला = हरित
  • लाल + पीला + नीला = भगवा रंग
  • पीला + हारा = चूना पिला
  • नीला + पीला + हारा = सफेद

ये सिर्फ कुछ उदाहरण हैं। बहुत सारे ऐसे रंग है जिनके मिश्रण से अलग रंग बन सकते हैं। इसी तरह रंगो के मिश्रण से हम बहुत सारे आकर्षक और विविध रंगों को प्राप्त कर सकते हैं।

FAQ About Color names

Q. 7 रंगों के मिलने से कौन सा रंग बनता है?

इंद्रधनुष के सात रंग होते है। लाल (Red), नारंगी (Orange),
पीला (Yellow), हरा (Green), नीला (Blue), जामुनी (Indigo), बैंगनी (Violet)। जब ये सभी रंग एक साथ मिल जाते हैं तो सफेद रंग बन जाता है।

Q. प्राथमिक कलर कौन से होते हैं?

लाल, पीला और नीला प्राथमिक कलर है। ये तीनों रंग अन्य रंगों का आधार हैं और इन्ही रंगों के माध्यम से अन्य रंग भी बनाये जाते है। नारंगी, हरा और बैंजनी को द्वितीयक रंग कहा जाता है।

Q. रंगों का राजा कौन सा है?

नीला रंग सभी रंगों का राजा होता है।

Q. रंगों की रानी कौन होती है?

काला रंग को रंगों की रानी कहा जाता है।

निष्कर्ष

तो दोस्तों आज के इस लेख में आप सभी ने Color name in hindi and english में जाना। और साथ ही साथ साथ Color name in hindi with image, Colors name in hindi with Chart, Rainbow Colors Name in Hindi आदि चीज़ें जानी।

आशा करते हैं कि आपको यह लेख पसंद आया होगा और साथ ही साथ Color name in hindi and english के बारे में आपको बहुत कुछ जानने को मिला होगा।

read More
4.4/5 - (5 votes)

You cannot copy content of this page