End To End Encrypted Meaning In Hindi । एंड टू एंड एनक्रिप्शन

5/5 - (1 vote)

End To End Encypted Meaning In Hindi,end to end encrypted meaning in whatsapp, end to end encrypted meaning in hindi whatsapp, encrypted meaning in hindi whatsapp, end to end encryption whatsapp, end to end meaning in hindi, types of End To End Encrypted , End To End Encrypted Meaning advantage

आज के इस नए लेख में आप सभी का सवागत है। आज कल हम सभी internet का इस्तेमाल बहुत ही ज़्यादा कर रहे हैं। और WhatsApp का इस्तेमाल तो आज के ज़माने में कौन नहीं करता है। पूरी दुनिया में WhatsApp users की संख्या 2 अरब के पार हो चुकी है। ऐसे में WhatsApp ने अपने सभी users के data को safe और secure करने के लिए कुछ कदम उठाए हैं। जिसमें से End-to-End Encryption एक है।आप सभी ने इसके बारे में ज़रूर सुना होगा या फिर अपने WhatsApp पर इसे लिखा हुआ देखा होगा।

तो आज के इस लेख में हम आपको end to end Encrypted meaning in hindi में बताएगें और साथ ही साथ end to end Encrypted का मतलब क्या होता है, end to end Encrypted के प्रकार,end to end Encrypted हमें किन चीज़ों से बचाता है,end to end Encrypted क्यो ज़रूरी है,end to end Encrypted के फायदे आदि चीज़ें बताएगें।

End-to-End Encryption एक तरह का privacy feature है। जो कि हर एक internet user के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। अगर आप WhatsApp का इस्तेमाल बहुत ही ज़्यादा करते हैं तो जानिए कि आखिर ये End-to-End Encryption क्या है और इसका इस्तेमाल करके users को क्या फायदे और नुकसान होते हैं।End-to-End Encryption के बारें में विस्तार से जानने के लिए इस लेख को अन्त तक ज़रूर पढ़े।

End To End Encrypted Meaning In Hindi
End To End Encypted Meaning In Hindi

End To End Encrypted Meaning In Hindi

end to end Encrypted का हिंदी में मतलब “गोपनीयता” होता है। यह आपकी chat, calls, videos आदि को hack होने से बचाता है।यह आपकी WhatsApp की जानकारी को गोपनीयता बनाए रखता है।

आपने कभी ना कभी अपने WhatsApp पर “messege and calls are end to end encrypted” लिखा हुआ देखा होगा। WhatsApp का यह feature एक security panel की तरह काम करता है। और आपकी chat व calls को पूरी तरह से secure बनाता है।

पिछले कुछ वर्षों में end to end encrypted tool बहुत ही ज़्यादा इस्तेमाल किया जा रहा है। जब भी आप message या email भेजते है तो end to end encrypted का इस्तेमाल करते हैं। तब network की निगरानी करने वाला कोई भी इन्सान आपके message को नहीं देख सकता है। फिर चाहे वो government हो, कोई hacker हो, कोई कंपनी हो आदि।

आप जब भी किसी ऐसी messaging service का इस्तेमाल करते हैं जो end-to-end encryption की सुविधा नहीं देती है। जैसे कि gmail या hotmail। इनकी service provider कम्पनी आपके message को आसानी से access कर सकती हैं क्योंकि इनके पास आपके mesaage की encryption key होती है।

यह feature आपके किसी भी data को कुछ ऐसे code में बदल देता है कि कोई अनजान इन्सान उस code को देखेगा तो उसको आपका data समाज में नहीं आएगा।

end to end Encrypted का मतलब क्या होता है-

WhatsApp के माध्यम से हमारी जिंदगी बहुत आसान हो गई है। हम WhatsApp पे किसी को मैसेजे, फोटो, वीडियो आदि भेजते हैं तो वह कोई देख ना पाए इसके लिए ही end to end Encrypted का इस्तेमाल किया जाता है।

आपने यह देखा होगा कि जब आप किसी को WhatsApp में message भेजते हैं तो ऊपर आपको एक पीले रंग में छोटे अक्षरों में End to end encrypted लिखा हुआ दिखाई देता है। तो इसका मतलब यह होता है कि आप और आप जिसको data भेज रहे हैं। आप दोनों के बीच कोई तीसरा इन्सान नहीं हो सकता है जो बीच के massages को पढ़ सके।

और साथ ही साथ WhatsApp भी उनके messages को नहीं पढ़ सकता है। क्योंकि जब आप message भेजते हैं तो mesaage में एक lock लग जाता है जिसे encryption कहते हैं। और सामने वाले के पास ही उस lock को तोड़ने की चाबी होती है। इसी तरह end to end Encrypted काम करता है।

अगर सरल भाषा में कहा जाए तो end to end Encrypted एक प्रकार का lock होता है जो आप के mesaage, photo, video, music और document के ऊपर लगाया जाता है।

जब आप अपने whtaspp के ज़रिए किसी को message या कोई document भेजते हैं। तो वह message या document Encrypted हो जाता है। जिसे बीच में कोई भी इन्सान देख नहीं सकता है। यहां तक कि whtsapp भी नहीं।

Read More- What Is Sensor In Hindi । सेंसर क्या है और सेंसर के प्रकार?.

end to end Encrypted के प्रकार-

end to end encypted के दो प्रकार होते हैं।

Privet key जिसे symmetric encryption भी कहा जाता है- इस में एक ही key होती है। जिसे Privet key कहते है। इस key की मदद से किसी data को encypted और decrypted दोनों किया जा सकता है। sender को इस key को हर उस इन्सान को देना होता है। जिसे वो अपनी information send कर रहा है। ताकि receiver भेजी गई information को पढ़ सके। इसे share encryption भी कहा जाता है।

Public key जिसे Asymmetric encryption भी कहा जाता है- इस में दो तरह की keys होती है। एक key की मदद से data Encrypted होता है और दूसरी key की मदद से data decrypted होता है। इसमें sender एक key अपने पास रखता है और दूसरी key को public करता है।

end to end Encrypted कैसे काम करता है-

जब आप end to end Encrypted को on करके message भेजने के लिए किसी भी messenger app का इस्तेमाल करते हैं तो सभी chat, उनके text,files, और media सहित, सब Encrypted हो जाता है। क्योंकि date, devices के बीच घूमता रहता है। encryption data को एक प्रकार के code में बदल दिया जाता है। इस code को केवल एक private key से पढ़ा जा सकता है।

end to end Encrypted हमें किन चीज़ों से बचाता है-

  • end to end Encrypted से हमारा data hack होने से बचा रहता है।
  • यह हमारे data को private रखता है।End to End Encryption की वजह से हम अपने messages को पढ़ने वाले पर control रख सकते है।
  • End to End Encryption की वजह से हम किसी से भी अपनी private chat कर सकते हैं। और वह chat केवल sender और receiver के ही बीच में रहती है।

end to end Encrypted क्यो ज़रूरी है-

आज के समय में सभी का आधे से ज़्यादा काम internet के माध्यम से हो रहा है। जिसके लिए हमें अपनी Private information, photo, video आदि चीज़ें एक दूसरे के साथ share करनी पड़ जाती है।

उन सभी को सुरक्षित रखने के लिए end to end Encrypted का इस्तेमाल किया जाता है। यह feature एक message को private रखने के लिए बहुत ज़रूरी होता है। क्योंकि इस feature के कारण हमारी information को वही इन्सान समझ सकता है जिसे हम अपनी private information share करते हैं। इसीलिए end to end Encrypted आज के समय में बहुत ज़रूरी हो गया है।

end to end Encrypted के लाभ-

  • end to end Encrypted हमारे data की रक्षा करता है।
  • end to end Encrypted हमारी किसी भी तरह की जानकारी जैसी की photo,video,chat,audio और document, को hack होने से बचाता है।
  • end to end Encrypted हमें hackers से तो बचाता ही है और साथ ही साथ हमारे data को अन्य तरह की कंपनी व सेवा से भी सुरक्षित रखता है।
  • Encryption हमारी privacy को बचाता है।
  • Encryption की मदद से हम किसी भी user data को सुरक्षित कही पर भी share कर सकते है।
  • यह हमारे data को corrupt होने से और fishing attack से भी बचाता है।
  • Data की authenticity को बनाए रखता है।

Read More- Phishing Meaning In Hindi । फिशिंग का मतलब हिंदी मे क्या है?

end to end Encrypted की हानि-

  • कोई भी इन्सान किसी भी offensive तरह की files को किसी को भी भेज सकता है। और इस तरह की activity को बढ़ावा दे सकता है।
  • बुराई और समाज में दरार डालने वाली चीज़ें तेज़ी से फैलने लगती है और सरकार का उसपर control कम हो जाता है।
  • सरकार या पुलिस इस तरह के end to end Encrypted से सुरक्षित डेटा को trace नहीं कर सकती है।
  • अगर end to end Encrypted के द्वारा कोई आतंकवादी या खुफिया जानकारी भेजे तो इसे ना तो सरकार पढ़ सकती है और ना ही वह कम्पनी पढ़ सकती है। और पुलिस इसे trace भी नहीं कर सकती है।
  • बिना key के इसे पढ़ना मुश्किल है।

FAQ-

Q. End To End Encrypted का मतलब क्या है?

End To End Encrypted की मदद से आपके Messages और Calls सिर्फ़ आपके और उन लोगों के बीच रहते हैं जिनसे आप Chatting करते हैं।

Q. Encrypted का मतलब क्या होता है?

Encrypted को हिंदी में कूट लेखन कहते हैं। यानि कि किसी भी Data File या Information को Code के ज़रिये सुरक्षित करना।

Q. Android पर End To End Encrypted कैसे बंद करें?

Setting खोले
Chat पर क्लिक करें
Chat Backup पर जाएं
End To End Encrypted Backup पर Tap करें
Turn Off वाले Option को चुने
अपना Password डालें

Q. क्या WhatsApp Business Account End To End Encrypted होता है?

जब आप WhatsApp Business Account से किसी को Message या Call करते हैं तो आपका Message या Call Business द्वारा चुनी गई Destination पर सुरक्षित तरह से Deliver हो जाता है। और वो End To End Encrypted होते है।

Q. Encrypted Image क्या है?

Encrypted Image एक प्रक्रिया है जो एक Private Key को नियोजित करके सादी Image को एक Encrypted Image में बदल देती है।

निष्कर्ष-

तो दोस्तों आज के इस लेख में आप सभी ने end to end Encrypted meaning in hindi में जाना। और साथ ही साथ end to end Encrypted का मतलब क्या होता है, end to end Encrypted के प्रकार ,end to end Encrypted हमें किन चीज़ों से बचाता है,end to end Encrypted क्यो ज़रूरी है,end to end Encrypted के फायदे आदि चीज़ें जानी।

End-to-End Encryption एक तरह का privacy feature है। जो कि हर एक internet user के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। अगर आप WhatsApp यह फिर अन्य social media platform पर अपनी private information share करते हैं तो इस feature का इस्तेमाल ज़रूर करें।

आशा करते हैं कि आप को यह लेख पसंद आया होगा और end to end Encrypted meaning in hindi के बारें में आपको बहुत कुछ जानने को मिला होगा।

Read More?


होम पेजयहाँ क्लिक करें
Share on:
you may also like this!

You cannot copy content of this page