what is sensor in hindi । सेंसर क्या है और सेंसर के प्रकार?.

what is sensor in hindi ।
what is sensor in hindi ।

Types of Sensor in Hindi, What is sensor, इलेक्ट्रॉनिक सेंसर, सेंसर कितने प्रकार के होते हैं,सेंसर की कीमत,what is sensor,types of sensor in hindi, what is sensor in hindi

हैलो दोस्तों आज के इस लेख में आप सभी का सवागत है। आप सभी ने sensor शब्द तो सुना ही होगा। लेकिन क्या आप को इसका मतलब पता है? अगर आप sensor के बारें में विस्तार से जानना चाहते हैं तो इस लेख को पूरा ज़रूर पढ़ीए।

क्योंकि आज के इस लेख में हम आपको what is sensor in hindi में बताएगें और साथ ही साथ sensor का मतलब क्या होता है,sensor के प्राकार,sensor कैसे काम करता है ,sensor का इस्तेमाल कहा होता है,sensor को कैसे Classify किया गया है आदि चीज़ें बताएगें।

आज के समय में technology का बहुत ही तेज़ी से विकास हो रहा है। आप चाहे mobile phone चलाते हो, laptop का इस्तेमाल करते हो ये फिर car चलाते हो। Sensor का इस्तेमाल हर जगह किया जा रहा है।Sensor की वजह से हमारा काम बहुत आसानी से हो जाता है।

जो बहुत बड़ी बड़ी factory होती है उनका तो Sensor के बिना कोई काम ही नहीं चलता है। और साथ ही साथ आप जो smart phone का इस्तेमाल करते हैं उसमे भी Sensor का इस्तेमाल किया जाता है। Sensor के बारें में विस्तार से जानने के लिए इस लेख को अन्त तक ज़रूर पढ़े।

what is sensor in hindi?

आज का दौर ऐसा दौर है कि आपको Sensor बहुत सारी जगहों पर देखने को मिल जायेंगे। फिर चाहे वो आपका घर हो या आपका office हो और साथ ही साथ आपकी car या mobile ही क्यो ना हो। हर जगह sensor technology का इस्तेमाल किया जा रहा है। Sensor हमारी रोज़मर्रा की जिंदगी को बहुत ही आसान बना देता है। Sensor अलग-अलग तरह के होते है जिनका काम भी अलग-अलग होता है।

आज के समय में Sensor बहुत तरह के कामों को कर सकता है।जैसे की- parking में मदद करता है, lights को ज़रुरत के हिसाब से set करता है, room के temperature को adjust कर देता है और दरवाज़ा कब खोलना है कब बन्द करना है वो भी पता लगा देता है। और साथ ही साथ इन सब के अलावा और भी बहुत से काम Sensor के द्वारा किए जाते हैं।

Sensor का काम किसी भी Data को Sense करना होता है। यानी कि महसूस करना या पता करना होता है। Sensor गति, दबाव, तापमान, प्रकाश, गर्मी, नमी, आदि के माध्यम से input लेता है और output के रूप मे जवाब देता है। आमतौर पर output signal data, Human-Readable Display या फिर Electrical Signal के रुप में होता है। जो कि इन्सानो के द्वारा देखा व पढ़ा जाता हैं।

बाज़ारों में बहुत तरह के Sensor होते है। जिनका इस्तेमाल रफ्तार, तापमान,नमी, कंपन, दबाव, आवाज़ आदि को पता लगाने के लिए किया जाता हैं। scientists Sensor का इस्तेमाल करके पर्यावरण से data जमा कर लेते है और फिर उन्हे internet के लिए इस्तेमाल करते हैं।

जैसे कि- car में ऐसे Sensor लगे होते है जो car के टायरो में हवा की जांच करते है, car के दरवाज़े automatic खोल देते है।Light बन्द व खोल देते है, आदि।

इसके अलावा आपके घर में जो टीवी का remote होता है उसमें भी Sensor लगा हुआ होता है। जिसकी वजह से हम टीवी के channel बदल सकते हैं, आवाज़ कम ज़्यादा कर सकते हैं और बहुत सारे चीज़ें कर सकते हैं। हमारे घर के refrigerator में Light Sensor लगा हुआ होता है। जब refrigerator का दरवाज़ा खुलता है तब refrigerator के अंदर का बल्ब जल जाता है और जैसे ही refrigerator का दरवाज़ा बंद होता हैं तो refrigerator का वल्ब भी बंद हो जाता है।

आने वाले smart phone में तो बहुत तरह के sensor होते है। जो अलग-अलग काम को करते हैं। जैसे कि-हम अपने smart phone का keypad lock, finger print से scanner से scan करके अपने phone को unlock कर देते हैं। यही एक प्रकार का Sensor होता है,जो आपके finger print को scan करके आपके finger print को match कर देता है और आपके mobile को unlock कर देता है।

sensor का मतलब क्या होता है-

Sensor एक तरह का Electronic Device होता है। जिसका इस्तेमाल physical activities को पता करने, Inspection करने और अन्य तरह की electronic control device को alert करने के लिए किया जाता हैं। तो आप यह समझें कि Sensor वो Electronic Device है, जो electric energy को एक रूप से दूसरे रूप में बदलकर जानकारी देती हैं।

Sensor एक ऐसा टूल है, जो किसी वस्तु, दिशा, गति, दबाव या तापमान को महसूस कर लेता है।हमारा smart phone
इन Sensors की मदद से बहुत सारी चीज़ों को महसूस कर लेता है। हमारे smart phone में अलग-अलग तरह के Sensor लगे होते हैं जो अलग-अलग काम करते हैं।

Sensor अलग-अलग काम करते हैं। लेकिन इन सबका मकसद यही होता है कि user अपने phone को बेहतर तरीके से यूज़ करले। आपके mobile phone में Sensor होने की वजह से ही आप आसानी से उसको यूज़ कर पाते हैं।

Read More- Advantages And Disadvantages Of Internet In Hindi

Sensor के कितने प्रकार होते है?

हुत तरह के sensor होते हैं। जिनमें से कुछ निम्न है-

  • P N P SENSOR
  • N P N SENSOR
  • INDUCTIVE SENSOR
  • CAPACITIVE SENSOR
  • Light sensor
  • Temperature sensor
  • IR radiation sensor
  • Proximity sensor
  • Tilt sensor
  • Ultrasonic sensor
  • Colour sensor
  • Alcohol sensor
  • Humidity sensor
  • Touch sensor
  • Thermocouple Sensors
  • Accelerometers Sensor
  • Gyroscope Sensor
  • Pressure Sensor
  • Hall Effect Sensor
  • Load Sensor
  • PIR Motion Detector Sensor
  • Vibration Sensor
  • Metal detector Sensor
  • Water Flow Sensor
  • Heartbeat Sensor
  • Flow और Level Sensor
  • Smoke, Fog, Gas, Ethanol और Alcohol Sensor
  • Humidity, Soil Moisture और Rain Sensor

इन सब के अलावा भी और तरह के sensor होते है। और समय के साथ नए-नए तरह के sensor नई technology के साथ आते हैं।

sensor कैसे काम करता है-

sensor input signal के रूप में किसी चीज़ या इन्सान को scan करता है। उसके बाद जमा की गई information को output signal के रूप में controller को भेज देता है। यह पूरा process केवल कुछ नेनो सेकंड में हो जाता है।

sensor का इस्तेमाल कहाँ किया जाता है-

sensor का इस्तेमाल निम्नलिखित जगाहो पर किया जाता है-

  • sensor का इस्तेमाल environment की activity को monitor करने के लिए किया जाता है।
  • इसका इस्तेमाल किसी जगह की निगरानी करने के लिए किया जाता है। जैसे कोई घटना या चोरी हो तो हमें उसका सबूत मिल जाए।
  • sensor का इस्तेमाल medical field में भी किया जाता है। जैसे कि- शरीर से बीमारी का पता लगाने के लिए, शरीर की जांच करने के लिए और शरीर के तापमान का पता लगाने के लिए किया जाता है।
  • sensor का इस्तेमाल अलग अलग species और habitats की निगरानी करने के लिए भी किया जाता है।
  • इसका उपयोग भूकंप का पता लगाने में, landslides का पता लगाने में, हवा की दिशा पता करने में, गति का पता लगाने में, तापमान का पता लगाने में, आदि के लिए भी किया जाता है।
  • sensor का network इतना powerful होता है कि यह जगंलो में लगने वाली आग का भी पता लगा सकता है।
  • sensor झील, समुद्र और नदी में मौजूद water quality को भी पता कर सकता है।
  • sensor कंपनियों में मशीन की खामियों को पता करने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है।
  • यह wasted water का पता लगाने में सक्ष्म होता है।
  • sensor की मदद से हम बहुत सारा data एक जगह जमा कर सकते हैं।
  • Network sensor का इस्तेमाल दुश्मनो पर निगरानी और उनकी activity को पता लगाने के लिए किया जाता है।

Read More- NIELIT – CCC Online Test In Hindi – 2021

sensor को कैसे Classify किया गया है-

sensor को दो तरह से Classify किया गया है-

  • Wired Sensor Network
  • Wireless Sensor Network

Wired Sensor Network (वायर्ड सेंसर नेटवर्क)- यह एक ऐसा Network है जिसमें Sensor को जोड़ने के लिए wire या फिर Ethernet cable का इस्तेमाल किया जाता है। WSNs इसका short form है। इसमे user को किसी समस्या का सामना नहीं करना पड़ता है।

Wireless Sensor Network (वायरलेस सेंसर नेटवर्क)- इसमे network में Sensor को जोड़ने के लिए wireless technique जैसे कि-Bluetooth या WiFi का इस्तेमाल किया जाता है। इसमें Sensor को जोड़ने के लिए किसी भी तरह की cable की ज़रूरत नहीं पड़ती है। WSNs इसका short form है। यह netwrok flexible होता है। जिसकी वजह से user को ज़्यादा समस्याओ का सामना नहीं करना पड़ता है। इस network का इस्तेमाल environment पर निगरानी रखने लिए किया जाता है।

sensor के फायदे-

नीचे sensor के कुछ फायदे दिए गए हैं-

  • sensor एक flexible network होता है।
  • यह wire और wireless दोनों तरीकों में उपलब्ध होता है।
  • wireless sensor network को बहुत ही आसानी से expand किया जा सकता है।
  • इससे हम अपने आपको चोरो से बचा सकते हैं क्योंकि ये चोरों पर निगरानी रखने का काम करता है।
  • sensor हमे natural disasters से होने वाले नुकसान से बचाने में मदद करता है।

sensor के नुकसान-

नीचे sensor के कुछ नुकसान दिए गए हैं-

  • Wired sensor flexible नहीं होते हैं।
  • Wireless sensor network बहुत ही ज़्यादा महंगे होते हैं।
  • sensor में sensor nodes होते है जिन्हे battery की ज़रूरत पड़ती है।
  • सभी sensor nodes सस्ते नहीं होते। कुछ sensor nodes बहुत ही ज़्यादा महंगे होते है।

लोगो ने यह भी पूछा- (FAQ)

Q. Sensor कितने प्रकार के होते हैं?

Sensor दो प्रकार के होते हैं। Wired Sensor Network और
Wireless Sensor Network।

Q. IR Sensor क्या काम करता है?

यह 0Sensor किसी भी चीज़ की गर्मी को मापता है और गति का पता लगाता है।

Q. मोबाइल में कितने Sensor होते हैं?

मोबाइल में बहुत तरह के Sensor होते हैं।

Q. Sensor कैसे कार्य करते हैं?

किसी चीज़ की स्थिति, दिशा, गति, दबाव और तापमान को महसूस करने के लिए Sensor का इस्तेमाल किया जाता है।

Q. कैमरा में Sensor का क्या महत्व है?

Camera में Sensor किसी इमेज के कलर और बाकी चीज़ों को पहचानने का काम करता है।

निष्कर्ष-

तो दोस्तों आज के इस लेख में आप सभी ने what is sensor in hindi में जाना। और साथ ही साथ sensor का मतलब क्या होता है,sensor के प्रकार,sensor कैसे काम करता है,sensor का इस्तेमाल कहा होता है,sensor को कैसे Classify किया गया है आदि चीज़ें जानी।

Sensor एक तरह का Electronic Device होता है। जिसका इस्तेमाल हमारे सभी कामों को बहुत आसान बना देता है।आशा करते हैं कि आप को यह लेख पसंद आया होगा और sensor के बारें में आपको बहुत कुछ जानने को मिला होगा।

Read more?


होम पेजयहाँ क्लिक करें
Join our Whatsapp groupयहाँ क्लिक करें
Share on:

you may also like this!