Phishing Meaning In Hindi । फिशिंग का मतलब हिंदी मे क्या है?

Phishing Meaning In Hindi
Phishing Meaning In Hindi

Phishing Meaning In Hindi, phishing meaning in english, phishing attack meaning in hindi, फिशिंग वेबसाइट,cyber phishing meaning in hindi, phishing meaning in hindi in computer

आज के इस लेख में आप सभी का सवागत है। दोस्तों आप सभी यह जानते होंगे कि internet पर धोखाधड़ी बहुत आम हो गई है। और हम में से बहुत सारे लोग ऐसे है जो कभी ना कभी इसका शिकार ज़रूर होए होंगे। internet पर बहुत तरह की धोखाधड़ी हो रही है। लेकिन आज हम जिसके बारे में बात करने जा रहे हैं वो है phishing।

आज के लेख में आप phishing meaning in hindi में जानेंगे और साथ ही साथ phishing attack क्या होता है,phishing कैसे होती है,phishing के प्रकार क्या होते है, phishing से कैसे बचें ,phishing के उदाहरण आदि चीज़ें जानेंगे।

वैसे तो फिशिंग का मतलब मछली पकड़ना होता है। लेकिन digital language में बोला जाए तो phishing का मतलब “जालसाजी” या “किसी की पर्सनल जानकारी को इक्कठा करना और उसके साथ धोखाधड़ी करना होता है”। जिस प्राकार एक मछली पकड़ने वाला चारा लगा कर मछली को फंसाता है। उसी प्राकार साइबर अपराधी भी लोगों को ऑफ़र दिखा कर उन्हें अपने जाल में फंसाता है।

phishing एक ऐसा तरीका है जिसमें जाली वेबपेज के माध्यम से इन्सान से उसकी व्यक्तिगत व private information ले ली जाती हैं और फिर उनका गलत इस्तेमाल किया जाता है। phishing के बारें में विस्तार से जानने के लिए इस लेख को अन्त तक ज़रूर पढ़े।

phishing meaning in hindi-

phishing को हम कुछ इस तरह से समझ सकते है कि जब नदी में मछवारा मछली को खाना दिखाता है और मछली वो खाना देख कर उस जाल में फंस जाती है। अब यहाँ पर मछली पकड़ने को fishing कहा जा रहा है।लेकिन, इस phishing की स्पेलिंग “F” से शुरू हो रही है। लेकिन technical language में phishing का मतलब होता है कि जब कोइ हैकर या अटैकर हमें आकर्षित ओफरस दिखाता है और हमें अपने जाल में फसाने की कोशिश करता है। और इस phishing की spelling “PH” से शुरू होती है।

मगर आप यह भी समझ पा रहे होंगे कि दोनों में बहुत समानता भी है। phishing में हम लोग hacker के जाल में फंस जाते हैं और fishing में मछली मछवारे के जाल में फंस जाती है।

phishing attack क्या होता है-

phishing एक प्रकार का cyber crime होता है। इसमे crime करने वाला इन्सान एक भरोसेमंद प्लेटफार्म जैसे कि बैंक अकाउंट, फोन नम्बर, ई-मेल आदि के माध्यम से किसी दूसरे इनसान से संपर्क करता है। फिर उसके बाद पीड़ित इन्सान की personal information या डेटा, जैसे कि बैंक अकाउंट नंबर, लॉगिन क्रेडेंशियल, credit card detail, या अन्य जानकारी को जानने की मांग करता है। phishing करने वाला इन्सान आमतौर पर आपसे यह सब जानकारी मांग सकता है-

Bank account details
Phone number
Credit card details
Home address
Important password

Phishing attack social engineering का एक उदाहरण है। social engineering भी एक तरह का world है। जिसका इस्तेमाल भी cyber crime में होता है। phishing एक ऐसा तरीका होता है जिसमें webpage, email, bank आदि fake तैयार किए जाते है। और जिस इन्सान को फ़साना होता है उसके पास भेज दिया जाता है। फिर उस इन्सान की bank details, credit card details, debit card details और password जैसी personal information चुराने की कोशिश की जाती हैं।

अगर हम Phishing attack का कोई उदाहरण देखें तो आपके gmail account के spam folder में एक ईमेल हो सकता है। ईमेल में एक लिंक शामिल होने की आशंका होती है। जो देखने में तो असली लगता है, लेकिन fake होता है।

तो Phishing attack एक तरह की technique होती है। जिसमे जो इन्सान cyber crime करता है वो internet User’s को एक Trusted Source बनकर Fake message या email Send करते हैं। जैसे कि user bank name, company name, Amazon Coupon, Lottery आदि। ये सभी link ऐसी होती है जिसमें User को भरोसा हो जाएँ।

इन्ही सब fake messages के साथ Malicious Link जुड़ी होती हैं। जिनके अन्दर Fake और खतरनाक website के links जुड़े हुए होते हैं। फिर users उसी के अन्दर अपनी personal information डाल देते हैं और phishing attack का शिकार बन जाते हैं।

Read More- antages And Disadvantages Of Internet In Hindi

phishing कैसे होती है-

phishing attack करने के लिए hacker किसी कंपनी या फिर प्रॉडक्ट के नाम से fake लिंक बनाता है। जिसे Malicious लिंक कहा जाता है। फिर उस लिंक को Email, Message, Social media या किसी अन्य तरह से targeted person के पास भेज देता है।और वह इनसान fake link और original link में अन्तर नहीं समझ पाता है। फिर fake link को ही original link समझ कर उस पर क्लिक कर देता है। जिससे उस इन्सान की सारी personal information hacker के पास चली जाती है।

फिर hacker कम्प्यूटर या सर्वर की security को तोड़ कर इन्सान की personal information को चुरा लेता है। जैसे कि यूज़र का नाम, पासवर्ड, क्रेडिट कार्ड और बाकी बैंकिंग डिटेल।और उसका गलत इस्तेमाल करता हैं या फिर उस इन्सान को blackmail करता

हैं।

phishing के प्राकार-

नीचे आपको phishing के प्राकार दिए गए हैं-

1.Spear Phishing-

इस तरह की Phishing में लोगों को एक ऐसी fake website पर क्लिक करने को कहा जाता है जिसका present website से कोई भी connection नहीं होता है।

इस Phishing में hacker केवल एक particular group को ही target करते हैं। बस कुछ चुनिंदा लोगों को ही अपना target बनाते हैं।

2.Whale Phishing-

इस Phishing में hacker किसी कंपनी के सीईओ, मैनेजिंग डायरेक्टर, कंपनी का owner या फिर किसी celebrity को target करता है। इस तरह की Phishing को रोकना बहुत ही मुश्किल होता है क्योंकि इसका पता जल्दी नहीं लग पाता है।

3.Smishing-

इस Phishing में hacker किसी भी इन्सान के मोबाइल नम्बर पर text message भेजता है। जिन messages में आकर्षक offers या lottery के बारें में बताया जा रहा होता है।

4. Vishing-

इस Phishing में Hacker किसी भी इन्सान को Phone Call करता है। और कोई भी बहाने से उसकी Bank Details लेने को कहता है।

5.SEO Phishing-

SEO Phishing का मतलब होता है search engine optimization Phishing। इसमे hacker खुद की website बनाता है और उसे किसी भी तरह से ranking में ऊपर की तरफ ले आता है। जिससे user उसके ऊपर क्लिक करके उसकी website पर visit करें और उसके जाल में फंस जाएं।

phishing के उदहरण-

  • Bank account को deactivate कर देना।
  • Credit card के ज़रिए जानकारी लेना।
  • Fund transfer करने के लिए कहना।
  • Social media के ज़रिए personal information ले लेना।
  • Google account को login करने के लिए कहना
  • Technical Support Company की तरफ से fake e-mail भेजना।

Read More- Computer Virus क्या होता है? कंप्यूटर वायरस की जानकारी

phishing की पहचान कैसे करें-

  1. ऐसे ऑफ़र या messages को open ना करें जिसमें आपको लॉटरी या पुरस्कार के विजेता के रूप में घोषित किया जा रहा हो।
  2. ऐसे messages से सावधान रहें जिसमें आपको ऐसा बताया जा रहा हो कि आपने iphone जीता है औरआपके पास केवल दस सेकंड है, आदि
  3. कुछ url link भी ऐसी होती है जिसको open करने से हमारी personal information leak हो जाती है।
  4. ऐसे किसी भी attachment या pdf को न खोलें जो किसी अनजान व्यक्ति द्वारा भेजी गयी हो।
  5. आपके पास कोई call आए और आपसे किसी भी बहाने से otp पूछा जाए तो otp बिलकुल भी ना बताए। 1 otp से आपके bank account का सारा पैसा खाली हो सकता है।

phishing attack से कैसे बचें-

  • किसी भी platfrom पर अपनी personal information जैसे कि- adhar card number, pan number, bank account number, आदि share ना करें।
  • आपको अपने हर अकाउंट का समय समय पर password बदल ते रहना चाहिए।
  • जिस platform पर आपको two factor authentication की सुविधा मिलती है। उसे आपको हमेशा on रखना चाहिए।
  • पूरी confirmation और research के बाद ही एक unknown e-mail पर क्लिक करना चाहिए।
  • अपने computer या laptop में हमेशा कोई antivirus install कर लेना चाहिए।

phishing से जुड़े कुछ सवाल-

Q. Phishing करना Legal है या Illegal?

Phishing करना एकदम Illegal होता है। अगर आप Phishing के मामले में पकड़े जाते हैं तो कानून आपके खिलाफ आईटी एक्ट के तहत कारवाई कर सकता है। साथ ही साथ आपको 1 या 2 साल की जेल भी हो सकती हैं।

Q. Anti Phishing Softwares कौन-कौन से होंगे?

नीचे आपको कुछ Anti phishing softwares दिए गए हैं। जिनसे आप phishing से बच सकते हैं-
Area 1 Horizon Anti-Phishing Service
Avanan Cloud Email Security
Cofense
IRONSCALES
SpamTitan Email Security
GreatHorn
Agari Phishing Defense
Proofpoint Email Security and Protection
Zerospam
DuoCircle

Q. E- Mail Phishing क्या है?

Hacker User को Original दिखने वाला एक Fake E Mail भेजते है। जिसके माध्यम से वो User की सारी Personal Information प्राप्त कर लेते है।

Q. Phishing E- Mail की रिपोर्ट कैसे करें?

सबसे पहले आपको अपने बैंक से सम्पर्क करना है और अपने अकाउंट को ब्लॉक करवा लेना है। फ़िर पिन और पासवर्ड बदल लेने है। और फिर उसके बाद कॉर्पोरेट नेटवर्क पर आईटी कर्मचारियों को इसकी रिपोर्ट करनी है।

Q. phishing E- mail का पता कैसे लगाएं?

उन E- Mail या Messages से हमेशा सावधान रहें जो आपकी Personal Information की मांग करते हो।

निष्कर्ष-

तो दोस्तों आज के इस लेख में आप सभी ने phishing meaning in hindi में जाना। और साथ ही साथ phishing attack क्या होता है,phishing कैसे होती है,phishing से कैसे बचें, phishing के प्राकार,phishing के उदाहरण आदि चीज़ें जानी।

दोस्तों आप सब यह बात ज़रूर याद रखे कि कोई भी ऐसा e-mail, message या phone call का जवाब आप ना दे। जो किसी unknown इन्सान की तरफ से हो। केवल एक click से आपको ज़िन्दगी भर की जमा पूंजी व personal information leak हो सकती हैं। जिसकी वापसी बहुत ही ज़्यादा मुश्किल होती है। अगर आप ऐसे किसी case में फस भी जाते है तो सबसे पहले आप अपना bank account बन्द कर वाएं फिर cyber cell को सूचित करें।

आशा करते हैं कि आप को यह लेख पसंद आया होगा और phishing meaning in hindi के बारें में आपको बहुत कुछ जानने को मिला होगा।

Read More?


होम पेजयहाँ क्लिक करें
Join our Whatsapp groupयहाँ क्लिक करें
Share on:

you may also like this!