Rabindranath Tagore Biography In Hindi | रवींद्रनाथ टैगोर का जीवन परिचय

रविंद्रनाथ टैगोर का जीवन परिचय(Rabindranath Tagore Biography In Hindi), रविंद्रनाथ टैगोर का परिवार, रविंद्रनाथ टैगोर का जन्म और शुरुआती जीवन , रविंद्रनाथ टैगोर की शिक्षा, रविंद्रनाथ टैगोर जी से जुड़ी कुछ खास बातें जाने ये सब हिंदी में।

वर्तमान समय में रवींद्रनाथ टैगोर जी को कौन नहीं जानता है। जी हां शायद ही ऐसे कोई व्यक्ति होंगे, जिन्होंने रवींद्रनाथ टैगोर के बारे में न सुना होगा। दरअसल, रविंद्रनाथ टैगोर एक कवि, लेखक, संगीतकार, निबंधकार, चित्रकार और नाटककार थे। रविंद्रनाथ टैगोर जी को साल 1913 के दौरान गीतांजलि के लिए साहित्य का नोबेल पुरस्कार प्रदान कर के भी सम्मानित किया गया है। 

रविंद्रनाथ टैगोर एशिया के प्रथम ऐसे व्यक्ति थे, जिन्हे Novel प्राइज प्राप्त हुआ था। यही ही नहीं रविंद्रनाथ टैगोर प्रथम ऐसे लेखक थे, जिनकी दो रचनाओं को भारत और बांग्लादेश ने अपने राष्ट्रगान के तौर पर चयन किया है। तो क्या आप भी रविंद्रनाथ टैगोर के जीवन परिचय के बारे में जानना चाहते हैं, यदि हां तो उसके लिए आपको हमारे लेख को पूरा पढ़ने की आवश्यकता होगी।

क्योंकि आज के लेख में मैं आप सभी को रविंद्रनाथ टैगोर के जीवन परिचय से जुड़ी हर महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने वाला हूं। साथ ही यकीनन आपको इस पोस्ट को पढ़कर काफी कुछ सीखने को मिलेगा। तो क्या आप तैयार है रविंद्रनाथ टैगोर के जीवन परिचय से संबंधित हर महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए, यदि हां तो लेख के लास्ट लाइन तक बनें रहें।

रविंद्रनाथ टैगोर का जीवन परिचय Rabindranath Tagore Biography In Hindi

Full NameRavindranath Tagore
साहित्यिक नाम Bhanu Sinha Thakur
Date Of Birth7 मई 1886
Birth Placeकलकत्ता, बंगाल प्रेसीडेंसी, ब्रिटिश इंडिया (अब कोलकाता, पश्चिमी बंगाल, इंडिया)
Death’ कब हुई 7 August 1941 (80 वर्ष की आयु में)
पुरस्कार 1913 में गीतांजलि के लिए Novel प्राइज
Languageबंगाली, अंग्रेजी
NationalityIndian
उल्लेखिक कार्य जन गण मन (भारत का राष्ट्रयगान), गीतांजलि आमार सोनार बांग्ला और भी अन्य जरूरी कार्य
पेशा लेखक, संगीतकार, निबंधकार, कवि, चित्रकार, नाटककार इत्यादि।
धर्म हिंदू
Death placeकलकत्ता, बंगाल प्रेसीडेंसी, ब्रिटिश इंडिया (अब कोलकाता, पश्चिमी बंगाल, इंडिया)
Rabindranath Tagore Biography In Hindi

रविंद्रनाथ टैगोर का परिवार Rabindranath Tagore family

rabindranath tagore image
Rabindranath Tagore
माता का नाम शारदा देवी
पिता का नामदेवेंद्रनाथ टैगोर
पत्नी का नाममिनालिनी देवी
भाई बहन सत्येंद्रनाथ टैगोर,
संतान  
Rabindranath Tagore family

रविंद्रनाथ टैगोर का जन्म और शुरुआती जीवन – Rabindranath Tagore life

रविंद्रनाथ टैगोर का जन्म कलकत्ता, बंगाल प्रेसीडेंसी, ब्रिटिश इंडिया (अब कोलकाता, पश्चिमी बंगाल, इंडिया) में साल 1886 को 7 मई को हुआ था। दरअसल, रविंद्रनाथ टैगोर का जन्म एक धनी हिंदू धर्म परिवार में हुआ था। इसके साथ ही आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि रविंद्रनाथ टैगोर कुल 13 भाई बहन थे। रविंद्रनाथ टैगोर के पिता का नाम देवेंद्रनाथ टैगोर था और यह ब्राह्मणों समाज से काफी ज्यादा प्रभावित थे।

यही वजह है कि देवेंद्रनाथ टैगोर ने आध्यात्मिक रास्ता का चयन किया। जिसकी वजह से इन्हें अकसर सफर करना पड़ता था। देखा जाए तो रविंद्रनाथ टैगोर का जीवन काफी संघर्ष वाला था। ऐसा इसलिए क्योंकि रविंद्रनाथ टैगोर जब काफी छोटे थे, तब ही इनकी मां शारदा देवी की मृत्यु हो गई। यही वजह है कि रविंद्रनाथ टैगोर का पालन पोषण नौकर चाकर के द्वारा किया गया।

वही इन्होंने St. Xavier’s school से शुरुआती शिक्षा प्राप्त किया। दरअसल, रविंद्रनाथ टैगोर का जन्म बुद्धिजीवियों में हुआ था। ऐसा कहा जाता है कि रविंद्रनाथ टैगोर के घर में सभी लोग बुद्धिमानी ही थे। सब किसी न किसी कला में माहिर थे। रविंद्रनाथ टैगोर जी की शादी केवल 9 वर्ष की कांदबरी देवी के साथ करवाई गई थी। दरअसल, रविंद्रनाथ टैगोर भी शादी के समय 9 वर्ष के आस पास आयु के ही थे।

यही वजह है कि रविंद्रनाथ टैगोर ने अपनी पत्नी के साथ काफी वक्त साथ ही गुजारे थे। ऐसा कहा जाता है कि रविंद्रनाथ टैगोर से कांदबरी देवी प्रेम करती थी। यही वजह है कि जब रविंद्रनाथ टैगोर की शादी साल 1883 में हुई तो इन्होंने सुसाइट कर लिया। तो चलिए अब बिना समय गंवाए हम रविंद्रनाथ टैगोर की शिक्षा के बारे में जान लेते है।

रविंद्रनाथ टैगोर की शिक्षा Rabindranath Tagore education

दरअसल, रविंद्रनाथ टैगोर को आधुनिक शिक्षा प्रणाली में कोई इंटरेस्ट न था और यही वजह है कि ये हमेशा स्कूल से दूर भागते रहते थे। आपको बता दूं कि रविंद्रनाथ टैगोर जी का ऐसा मानना था कि प्राचीन वर्तमान की प्रणाली, से काफी अच्छा माना जाता है। दरअसल, घर पर ही रविंद्रनाथ टैगोर ने कई तरह की शिक्षा प्राप्त किया था।

जिसमें भूगोल, कला, कुश्ती, इतिहास, गणित, साहित्य, अंग्रेजी और संस्कृति इत्यादि सब शामिल है। इन सब शिक्षा को प्राप्त करने में रविंद्रनाथ टैगोर के भाई हरेंद्रनाथ टैगोर ने सहायता किया था। दरअसल, इनके पिता जी ने अपने सभी बच्चों को संगीत और अंग्रेजी सीखने के लिए प्रोत्साहित करते थे। यही वजह है कि इनके पिता जी ने घर पर ही कुछ संगीतकारों को कार्य पर रखा था।

टैगोर के पिता अपने बेटे को पढ़ा लिखा कर एक बेहतर वकील बनता देखना चाहते थे। यही वजह है कि रविंद्रनाथ टैगोर ने साल 1878, में इंग्लैंड के एक सार्वजनिक कॉलेज में नाम लिखवाया था। जिसके पश्चात कानून सीखने के लिए इन्होंने लंदन के यूनिवर्सिटी कॉलेज में भी एडमिशन कराया। तो कुछ इस प्रकार रविंद्रनाथ टैगोर जी की शिक्षा प्राप्त किया था।

रविंद्रनाथ टैगोर जी का विवाह – Rabindranath Tagore merrige

क्या आप जानते है कि रविंद्रनाथ टैगोर जी का विवाह कब हुआ था, यदि नहीं तो आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि रविंद्रनाथ टैगोर जी का विवाह साल 1883 के दौरान 10 वर्ष की मृणालिनी देवी के साथ हुआ था।

रविंद्रनाथ टैगोर जी का दुखद वर्ष

रविंद्रनाथ टैगोर जी के लिए सबसे दुखद वर्ष साल 1902 था जब उनकी पत्नी मृणालिनी की मृत्यु हो गई थी। जिसके कुछ ही वक्त के बाद रविंद्रनाथ टैगोर जी के दो पुत्रों की भी मृत्यु हो चुकी गई थी। यही ही नहीं ऐसा लग रहा था कि रविंद्रनाथ टैगोर के सर पर दुखो का पहाड़ टूट पड़ा हो। क्योंकि दो पुत्रों की मौत के कुछ ही समय बाद साल 1905 में रविंद्रनाथ टैगोर के पिता देबेंद्रनाथ टैगोर की भी मृत्यु हो गई।

रविंद्रनाथ टैगोर जी से जुड़ी कुछ खास बातें – Rabindranath Tagore facts In Hind

क्या आप भी रविंद्रनाथ टैगोर जी से जुड़ी कुछ खास बातों के बारे में जानना चाहते हैं, यदि हां तो आपके लिए हमारा आगे का लेख काफी महत्वपूर्ण साबित होने वाला है। क्योंकि आगे के लेख में मैंने आप सभी को रविंद्रनाथ टैगोर से जुड़ी सभी खास बातें साझा करने जा रहा हूं। जो कि इस प्रकार है

  • साल 1930 के दौरान विश्व के सबसे प्रसिद्ध वैज्ञानिक से खुद रविंद्रनाथ टैगोर जी मिले थे।
  • इसके साथ ही आपको जान कर हैरानी होगी कि रविंद्रनाथ टैगोर ने अपने लाइफ में तकरीबन 2230 गाने की रचना कर डाली है।
  • दरअसल, रविंद्रनाथ टैगोर पहले के समय में एक गैर यूरोपीय थे। इनको साहित्य में नोबेल पुरस्कार से भी सम्मानित किया है।
  • रविंद्रनाथ टैगोर जी पहले ऐसे व्यक्ति है जिनकी दो रचनाओं को भारत और बांग्लादेश ने अपने राष्ट्रगान के तौर पर चयन किया है।

रविंद्रनाथ टैगोर जी की अनमोल विचार कुछ इस प्रकार है Rabindranath Tagore quotes

क्या आप भी रविंद्रनाथ टैगोर जी की अनमोल विचार के बारे में जानना चाहते हैं, यदि हां, तो उसके लिए आपको आगे के स्टेप्स को जरा ध्यान में पढ़ने की आवश्यकता होगी। जो कि इस प्रकार है

  • प्रेम अधिकार का दावा नहीं करता, बल्कि स्वतंत्रता देता हैं।
  • प्रेम एक अंतहीन रहस्य है, क्योंकि इसे समझने के लिए और कुछ नहीं है।
  • उच्चतम शिक्षा वो है जो न सिर्फ हमे जानकारी देती है, बल्कि हमारे जीवन को सभी अस्तिव के साथ सामंजस्य बिठाती है।

FAQ about Rabindranath Tagore Biography

Q1. रविंद्रनाथ टैगोर जी कौन थे?

रविंद्रनाथ टैगोर जी एक कवि, संगीतकार, नाटककार और चित्रकार थे।

Q2. रविंद्रनाथ टैगोर जी का निधन कब और कहां हुआ था?

रविंद्रनाथ टैगोर जी का निधन 7 1941 को कलकत्ता, बंगाल प्रेसीडेंसी, ब्रिटिश इंडिया (अब कोलकाता, पश्चिमी बंगाल, इंडिया) में हुआ था।

निष्कर्ष

आशा करता हूं कि आपको हमारा आज का Ravindranath Tagore Biography in Hindi का यह पोस्ट पसंद आया होगा। क्योंकि आज के लेख में मैंने आप सभी को रविंद्रनाथ टैगोर के जीवन परिचय से जुड़ी हर महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान किया है। इसके साथ ही अगर आपको हमारे आज के इस रविंद्रनाथ टैगोर के जीवन परिचय के इस पोस्ट को पढ़कर कोई भी सवाल पूछना हो, तो आप कमेंट करके पूछ सकते हैं।

Read More
  1. जादूगर सुहानी शाह की जीवनी | Magician Suhani Shah Biography In Hindi
  2. Neeharika Roy Biography In Hindi | निहारिका रॉय का जीवन परिचय?
  3. Anchal Sahu Biography In Hindi आंचल साहू (अभिनेत्री) का जीवन परिचय
  4. Best Sandeep Maheshwari Biography In Hindi Wikipedia
  5. Mahadevi Verma Biography in Hindi | महादेवी वर्मा जीवनी
  6. Sunita Williams Biography in hindi | सुनीता विलियम जीवन परिचय
  7. Chotu Dada Biography In Hindi | छोटू दादा कौन हैं
  8. Ramdhari Singh Dinkar Biography In Hindi | रामधारी सिंह ‘दिनकर’ जीवन परिचय

You cannot copy content of this page