Bhukh Na Lagne Ke Karan । भूख न लगने के लक्षण, कारण, घरेलू उपचार

4.6/5 - (8 votes)

Bhuk Na Lagne Ke Karan And Everything , भूख कैसे बढ़ाएं, भूख ना लगे तो क्या खाना चाहिए, भूख न लगना, वजन कम होना, भूख न लगने के कारण और उपाय, bhook na lagne ke karan kya hai, bhook na lagne ke karan aur upay, bhookh na lagne ke karan kya hai

हैलो दोस्तों आज के इस लेख में आप सभी का सवागत है। आज का लेख हम में से हर किसी के काम में आने वाला है क्योंकि आज के इस लेख में हम आपको Bhuk na lagne ke karan and everything बताएगें और साथ ही साथ भूख ना लगना क्या है, भूख को बढ़ाने के लिए क्या करे, भूख कम लगने के लक्षण क्या है, भूख कम लगने से कैसे बचें, आदि चीज़ें जानेंगे।

दोस्तों भूख ना लगने की समस्या तो हर किसी को भी हो सकती है। इसके बहुत सारे अलग-अलग कारण हो सकते है। ज़्यादा तर पेट में गैस बनने की वजह से भूख नहीं लगती है।लेकीन अगर आपको यह समस्या लगातार बनी रहती है तो आपको इसपर ध्यान देना चाहिए।

जब आपको भूख नही लगती है तो धीरे-धीरे आपकी थकान बढ़ने लगती हैं और वज़न कम होने लगता है। यह चीज़ें आपके लिए परेशानियां पैदा कर सकती है। इसलिए समय पर ही भूख ना लगने के कारण के बारे में पता कर लेना चाहिए और इसका इलाज करवाना बहुत ज़रूरी हो जाता है।

डॉक्टर्स का कहना है कि भूख ना लगना शारीरिक या मनोवैज्ञानिक दोनों ही कारणों से हो सकता है। अगर आपका हाज़मा सही नहीं रहता है तब भी आपको भूख ना लगने जैसी समस्या हो सकती हैं। लेकिन कुछ गम्भीर बीमारियां जैसे डायबिटीज़, दिल की समस्या आदि के कारण भी भूख में कमी महसूस होती है। भूख ना लगने के बारें में विस्तार से जानने के लिए इस लेख को अन्त तक ज़रूर पढ़े।

Bhuk Na Lagne Ke Karan And Everything
Bhuk Na Lagne Ke Karan And Everything
Table Of Contents hide

Bhukh Na Lagne Ke Karan – भूख न लगने के कारण

किसी को भी बहुत सारे कारणों की वजह से यह पता चल सकता है कि उसे भूख ना लगने की समस्या है। जैसे कि आप में खाने की इच्छा कम हो सकती है, खाने में रुचि कम हो सकती है, थकान हो सकती हैं, वज़न कम हो सकता है आदि। नीचे आपको भूख ना लगने के कुछ कारण दिए गए हैं।

बीमारियां

हमारे शरीर में जो बीमारियां लंबे समय तक बनी रहती है, वो भी हमारी भूख में कमी का कारण बन सकती हैं। डॉक्टर्स का कहना है कि पाचन तंत्र से जुड़े हुए रोग जैसे कि अस्थमा, खून की कमी, कैल्शियम की कमी, एचआईवी, एड्स आदि जैसी बीमारियों से भी भूख ना लगने की समस्या बनी रहती है।

मानसिक तनाव

बहुत सारे मानसिक तनाव से भी हमें भूख ना लगने की समस्या हो सकती हैं। चिंता, depression, दुख जैसी समस्याओं से हमारी भूख पर असर पड़ता है।

गंभीर बीमारियां

डॉक्टर्स का कहना है कि गंभीर बीमारियों के शिकार की वजह से भी लोगो में भूख ना लगने की समस्या हो जाती है। जैसी कि कैंसर या कीमोथेरेपी के बाद भी लोगों को भूख लगना बन्द हो जाती है।

Read More- 5 मिनट में Pimples से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपाय

बैक्टीरिया और वायरस

बैक्टीरियल, वायरस, फंगल आदि के कारण भी भूख कम हो सकती है।

मनोवैज्ञानिक कारण

मनोवैज्ञानिकों का कहना है कि जब कोई इन्सान उदास, परेशान या चिंतित होता है तो उसको भूख लगना बन्द हो जाती है।

महिलाएं- जो महिलाएं गर्भावस्था में होती है तो उन्हे भी पहली तिमाही के दौरान भूख की कमी होने लगती है।

दवाएँ

अगर आपके कोई बीमारी है और आप बहुत सारी दवाएं खा रहे हे तो आपको अपनी भूख में कमी देखने को मिल सकती है।

Harmones

Harmones हमारे शरीर को संतुलित रखते हैं। खाना पचाना, एनर्जी देना आदि सब काम Harmones करते है। Harmones हमारी भूख को regulate करते हैं। ऐसे में अगर हमारे Harmones असंतुलन रहते है तो हमें भूख नहीं लगती है।

भूख ना लगना क्या है

मेडिकल की भाषा में भूख ना लगना anorexia कहलाता है जो तरह तरह की बीमारियों के कारण हो सकता है। जैसे कि दवाओं के कारण से भूख न लगना, कैंसर के कारण से भूख न लगना,आदि। अगर आपको भूख कम लगती है, तो आपको वज़न घटाने जैसे लक्षण हो सकते हैं। अपनी कम भूख के कारण को खोजना और उसका इलाज करवाना बहुत ही ज़्यादा महत्वपूर्ण है।

भूख कम लगने पर क्या करना चाहिए

भूख न लगने की समस्या लगातार बनी रहे तो वज़न घटने और कुपोषण का कारण बन सकती है। इसलिए इसके कारणों का पता लगाना बहुत ही ज़्यादा महत्वपूर्ण होता है। अगर आपको बिना किसी समस्या के भूख न लगने की समस्या बनी रहती तो आप अपनी रोज़ मर्रा की जिंदगी में व्यायाम और शारीरिक गतिविधियों को ज़रूर शामिल करें। इससे आपकी समस्या कुछ हद तक कम होगी।

Read More- Sehat Kaise Banaye In Hindi | अच्छी सेहत बनाने की (टिप्स 10)

भूख को बढ़ाने के लिए क्या करे

नीचे आपको भूख को बढ़ाने के लिए कुछ उपाय बताएं गए हैं।

  • ज़्यादातर हमारे पेट की समस्याएं हमारी भूख को कम करती हैं। इसलिए हमे दालचीनी, काली मिर्च, पुदीना और अजवायन जैसे मसालों का अपने भोजन में इस्तेमाल करना चाहिए। क्योंकि यह सभी मसाले भूख बढ़ाने में मदद करते हैं।
  • ख़ाली पेट धनिए के पत्तों का रस पीने से पांचन की समस्या कम रहती है। जिससे हमारी भूख बढ़ने में मदद होती है।
  • अगर आप धनिया के बीजों और अदरक पाउडर को अच्छे से पानी में पकाए और इसका रस पिए तो इससे आपकी भूख बढ़ेगी।

भूख कम लगने के लक्षण क्या है-

नीचे आपको भूख कम लगने के कुछ लक्षण दिए गए हैं।

वज़न कम होना

भूख न लगने का सबसे आम लक्षण वज़न कम होना है। अगर अचानक आपका वज़न कम होने लगे, तो जल्द से जल्द आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। क्योंकि वज़न कम होना किसी भी चीज़ का कारण हो सकता है।

थकान

कभी कभी ऐसा होता है कि शरीर में थकान और कमज़ोरी इतनी बढ़ जाती है कि भूख लगने पर भी खाने का मनन नहीं होता है। विशेषज्ञों का कहना है कि, सही मात्रा में पोषक तत्व न लेने से इन्सान का शरीर जल्दी थकने लग जाता है और उसे कुछ भी खाने का मन नहीं करता है।

खाने का मन न होना

आपने सुबह से कुछ भी नहीं खाया है और तब भी आपका कुछ खाने का मन नही करे तो ये भी भूख में कमी का लक्षण हो सकता है।

भूख कम लगने से कैसे बचें

अगर आप चाहते हैं कि आप भूख कम लगने से बचाव कर सकें तो आपको निम्न चीज़ो का पालन करना होगा।

  • भरपूर नीन्द ले।
  • तनाव, stress, depression जैसी चीज़ों से दूर रहने की कोशिश करें।
  • Exercise करें।
  • धूम्रपान से दूर रहें।
  • खूब पानी पीए।
  • ज़्यादा से ज़्यादा चलें।

भूख कम लगने को diagnose कैसे करें-

आप अपनी भूख कम लगने की समस्या को निम्नलिखित तरीकों से diagnose कर सकते हैं।

  • यह सोचे की आपके भूख न लगने के लक्षण कब शुरू होए थे।
  • लक्षण कम है या गम्भीर है।
  • क्या कोई लक्षण कभी बहुत ही ज़्यादा बढ़ जाता है।
  • क्या और कोई लक्षण भी आपको महसूस होते है।

भूख कम लगने का इलाज

  • भूख कम लगने के इलाज के लिए सबसे पहले डाक्टर को दिखाएं।
  • तरह तरह के supplements आते है। उनका इस्तेमाल करें।
  • Exercise करें
  • Stress न ले।
  • समय पर सोए व समय पर उठे और नीन्द को पूरा करें।

भूख कम लगने से कौन-कौन सी समस्याएं हो सकती है

अगर आपको भूख कम लगती है तो आपको नीचे दि गई बीमारियां हो सकती है।

  • बहुत जल्दी और बहुत ज़्यादा थक जाना।
  • तेज़ी से वज़न कम होना।
  • दिल की धड़कन तेज़ होना।
  • चिड़चिड़ापन होना।
  • बिमार महसूस होना।
  • Stress में होना।

भूख कम लगने पर क्या क्या खाना चाहिए

भूख ना लगने पर अनार, आंवला, इलायची, अजवाइन और नींबू आदि चीजें खानी चाहिए। यह सभी चीज़ें हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही ज़्यादा फायदेमंद होती हैं। इन्हें खाने से शरीर में बहुत सारे पोषक तत्व आते है। इन सभी चीज़ो को खाने के साथ साथ ही व्यायाम करना भी बहुत ज़रूरी होता है।

डॉक्टर के पास कब जाना चाहिए

लगातार भूख न लगना,वज़न घटना और कुपोषण का कारण बन सकता है। यह बहुत ही ज़रूरी है कि भूख कम लगने का कारण जल्द से जल्द पता लगाया जाए। क्योंकि अगर आप इसका इलाज करने में देर करते हैं तो कोई भी नई बिमारी जन्म ले सकती है।अगर आपको लंबे समय तक भूख न लग रही हो तो आप डॉक्टर से बात कर सकते हैं।

FAQ

Q. भूख नहीं लगने का मुख्य कारण क्या होता है?

infection या digestion से जुड़ी समस्या भूख नहीं लगने का मुख्य कारण होते है।

Q. भूख न लगना कौन सी बीमारी का लक्षण है?

भूख न लगना मैडिकल के अनुसार anorexia नामक बीमारी का लक्षण है।

Q. भूख नहीं लगती है तो क्या करना चाहिए?

भूख नहीं लगती है तो प्रोटीन और फाइबर से भरपूर चीज़ें खानी चाहिए। जिससे आपको लंबे समय तक भूख नहीं लगती है।

Q. किस कमी से भूख कम लगती है?

आयरन की कमी होने से भूख कम लगती है।

Q. कौन सी चीज़ खाने से भूख बढ़ती है?

अजवाइन खाने से भूख बढ़ती है। इसे आधा छोटा चम्मच चबाकर खाएं और गुनगुना पानी पी लें। आप इसे पानी में उबालकर भी उसका पानी पी सकते हैं। इससे आपकी सभी पेट की समस्या ठीक रहेगी और भूख भी बढ़ जाएगी।

निष्कर्ष

तो दोस्तों आज के इस लेख में आप सभी ने Bhuk na lagne ke karan and everything जाना। और साथ ही साथ भूख ना लगना क्या है, भूख को बढ़ाने के लिए क्या करे, भूख कम लगने के लक्षण क्या है, भूख कम लगने से कैसे बचें आदि चीज़ें जानी।

आशा करते हैं कि आप को यह लेख पसंद आया होगा और Bhuk na lagne ke karan and everything जानने को मिला होगा।

Read More?


होम पेजयहाँ क्लिक करें
Share on:
you may also like this!

You cannot copy content of this page