सफेद मूसली के फायदे, नुकसान – Safed Musli Benefits in Hindi

क्या आप जानते है कि सफेद मूसली के फायदे, उपयोग और नुकसान क्या है (Safed Musli Benefits, side effects, doses, price In Hindi), यदि नहीं तो आप इसकी जानकारी हमारे आज के पोस्ट के माध्यम से प्राप्त कर सकते है।

जैसा कि आप सभी ये बखूबी जानते होंगे कि हमारा भारत ऋषि-मुनियों का देश रहा है। स्टार्टिंग से ही हमारे देश के बुजुर्गो ने ज्यादातर आयुर्वेद पर भरोसा कर आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों से अपना उपचार किया हैं। वही देश में कई प्रकार के जड़ी बूटी प्रसिद्ध है और उनका इस्तेमाल भी कई अलग अलग तरीकों से किया जा सकता है। जैसे कि इन प्रसिद्ध जड़ी बूटियों में शिलाजीत, तुलसी, गिलोय, अश्वगंधा इत्यादि शामिल है।

अब इन्हीं जड़ी बूटियों में एक जड़ी बूटी ऐसा भी है जो काफी फायदेमंद और उपयोगी माना जाता है। जिसका नाम सफेद मूसली है। तो क्या आप भी सफेद मूसली का सेवन करना चाहते हैं, यदि हां तो उसके लिए आपको हमारे लेख को अंतिम लाइन तक पढ़ने की आवश्यकता होगी। क्योंकि आज के लेख में मैं आप सभी को Safed Musli Ke Fayde के बारे में ही जानकारी प्रदान करने वाला हूं।

Table Of Contents show

सफेद मूसली क्या है | What is Safed Musli in Hindi

यदि हम सफेद मूसली के बारे में सरल शब्दों में समझे तो इसका वैज्ञानिक नाम क्लोरोफाइटम बोरीविलियेनम है। दरअसल, यह वृक्षों के लिलियासी परिवार से जुड़ा हुआ है। हमारे देश का यह प्रसिद्ध जड़ी बूटी माना जाता है। इसके साथ ही मुख्य तौर पर इसे सफेद सोना या दिव्य औषध भी कहा जाता है। आयुर्वेद उपचार में सफेद मूसली का काफी ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है।

ऐसा कहा जाता है कि इसमें कई औषधि गुण पाए जाते है। जिसमें एंटी-माइक्रोबियल, एंटीइन्फ्लेमेटरी, एंटीट्यूम इत्यादि गुण शामिल है। जानकारी के मुताबिक ये गुण शारीरिक बीमारी और कमजोरी जैसी समस्या को ठीक करने में काफी मददगार साबित हो सकता है। यही नहीं सफेद मूसली मुख्य तौर पर डायबिटीज और गठिया जैसी गंभीर समस्या में भी फायदेमंद माना जाता है।

सफेद मूसली के फायदे | Safed Musli Benefits in Hindi

जैसा कि मैंने आपको पहले भी बताया है कि सफेद मुसली में कई प्रकार के गुण पाए जाते हैं, जो कि कई बीमारियों में फायदेमंद साबित होते हैं। तो क्या आप भी सफेद मूसली का उपयोग करना चाहते हैं, यदि हां तो चलिए आप बिना समय गवाएं हम सफेद मूसली के फायदे के बारे में जान देते हैं। जो कि इस प्रकार है

1 . वजन बढ़ाने में सफेद मूसली के लाभ

क्या आप भी जितना खा ले अन्न आपके शरीर में लगता नहीं है यानी क्या आप काफी कमजोर है, यदि हां तो अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। क्योंकि अब आप अपने वजन को बढ़ाने के लिए सफेद मूसली का सेवन कर सकते हैं। जैसा कि हम जानते हैं कि शरीर का औसत से कम वजन कमजोरी की वजह बन सकती है

दरअसल, चूहों पर किए गए रिसर्च में यह साबित हुआ है कि वजन बढ़ाने में सफेद मूसली काफी लाभकारी माना जाता है। इसलिए अगर आप भी काफी विकनेस फिल कर रहे है, तो आपको सफेद मूसली का सेवन करना चाहिए।

2 . ऊर्जा और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए सफेद मूसली का करे इस्तेमाल

क्या आप भी अक्सर बीमार रहते है और कमजोरी महसूस करते है, यदि हां तो ऊर्जा और रोग प्रतिरोधक क्षमता कम करता है। वही इस परेशानी से छुटकारा पाने के लिए आप सफेद मूसली का सेवन कर सकते हैं। दरअसल, मछलियों पर एक्सपर्ट द्वारा रिसर्च किया गया तो इसमें साबित हुआ ऊर्जा और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए सफेद मूसली काफी लाभकारी सिद्ध होता है।

इसके साथ ही ऐसा माना जा रहा है कि यह शरीर में ऊर्जा का संचार करने में भी लाभकारी सिद्ध माना जाता है। हालांकि, इसपर और भी रिसर्च करने बाकी है। लेकिन अगर आपको ऊर्जा और रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाना है, तो सफेद मूसली एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है।

3 . गर्भावस्था में सफेद मूसली है फायदेमंद

दरअसल, गर्भावस्था के दौरान विभिन्न प्रकार के पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है, जो की होने वाले बच्चे और मां दोनों के लिए ही जरूरी होते है। यही वजह है कि गर्भावस्था में सफेद मूसली का सेवन करना लाभकारी माना जाता है। दरअसल, इसके सेवन से मां और पेट में पल रहे बच्चे के लिए यह टॉनिक के रूप में कार्य करता है।

हालांकि, आपको गर्भावस्था में सफेद मूसली का सेवन करने से पूर्व डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी होगी। ध्यान देने योग्य बात यह है कि गर्भावस्था में किसी चीज का सेवन करने से पूर्व आपको डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी है।

4 . वजन घटाने में सफेद मूसली के फायदे

दरअसल, आज के समय में मोटापा हर किसी की परेशानी बन चुका है। यदि आप भी इस परेशानी से छुटकारा पाना चाहते हैं, तो उसके लिए आपको सफेद मूसली का उपयोग करना चाहिए। सफेद मूसली का उपयोग कई विभिन्न तरह के परेशानियों में किया जाता है। इसी तरह वजन कम करने में भी सफेद मूसली काफी लाभकारी सिद्ध होता है।

एक रिसर्च के मुताबिक, सफेद मूसली में एंटीओबेसिटी गुण पाया जाता है। इसमें पाए जाने वाला ये गुण वजन को कम करने में काफी मददगार साबित हो सकता है। इसलिए वजन को कम करने के लिए सफेद मूसली एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है।

5 . डायबिटीज की समस्या को दूर करने में सफेद मूसली के फायदे

क्या आपको भी डायबिटीज जैसी समस्या से दूर रहना है, यदि हां तो उसके लिए आपको मधुमेह की समस्या को दूर करने हेतु सफेद मूसली का उपयोग करने की आवश्यकता होगी। क्योंकि सफेद मूसली में पाए जाने वाला गुण डायबिटीज के खतरे को कम करता है। दरअसल, ये खून में मौजूद ग्लूकोज के स्तर को कंट्रोल करने में फायदेमंद साबित होता है।

6 . बांझपन और नपुंसकता में सफेद मूसली के लाभ

क्या आप भी बांझपन और नपुंसकता की गंभीर समस्या से खुद को बचाना चाहते हैं, यदि हां तो उसके लिए आपको सफेद मूसली का उपयोग करना चाहिए। क्योंकि इस समस्या से दूर करने में सफेद मूसली फायदेमंद साबित होता है। इसके साथ ही जो लोग इस परेशानी से गुजर रहे है, उन लोगों के लिए भी सफेद मूसली काफी लाभकारी सिद्ध होता है।

7 . तनाव को कम करने में सफेद मूसली है फायदेमंद

क्या आप भी अक्सर तनाव जैसी गंभीर समस्या से गुजर रहे है, यदि हां तो अपने तनाव को कम करने के लिए आप सफेद मूसली का सेवन कर सकते हैं। दरअसल, सफेद मूसली में पाए जाने वाला गुण तनाव को कम करने में असरदार साबित हुआ है। इसलिए आप भी अपने इस समस्या से राहत पाने के लिए सफेद मूसली का उपयोग कर सकते हैं।

8 . गठिया और जोड़ों के दर्द से छुटकारा पाने के लिए सफेद मूसली का करें उपयोग

आज के समय में कई लोग गठिया और जोड़ों के दर्द जैसी समस्या से जूझ रहे है। यदि आप भी इन लोगों में शामिल है तो आप सफेद मूसली का उपयोग कर सकते हैं। दरअसल, इसमें पाए जाने वाले गुण गठिया और जोड़े के दर्द से छुटकारा दिलाने में मददगार साबित होता है। इसके साथ ही जिन लोगों को अर्थराइटिस की समस्या है, वो लोग भी सफेद मूसली का उपयोग कर सकते हैं।

9 . दस्त की समस्या में सफेद मूसली का करें उपयोग

आज के समय में खराब खान पान की वजह से दस्त की समस्या होना आम बात सी हो गई है। तो क्या आप भी अक्सर दस्त की समस्या का सामना कर रहें है, यदि हां तो उसके लिए आपको सफेद मूसली का सेवन करना चाहिए। क्योंकि सफेद मूसली दस्त जैसी समस्या को दूर करने में काफी फायदेमंद साबित होता है।

10. एंटीइंफ्लेमेटरी गुण

दरअसल, सफेद मूसली में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते है। कई बार पुरानी सूजन समस्या की वजह बन सकता है। आप इस परेशानी से छुटकारा पाने के लिए सफेद मूसली का उपयोग कर सकते हैं। इसमें पाए जाने वाले गुण गठिया जैसी समस्या में फायदेमंद साबित होता है।

Read More : शिलाजीत के फायदे और नुकसान – Shilajit Benefits In Hindi – Click Here

सफेद मूसली के नुकसान | Side Effects of Safed Musli in Hindi

क्या आप भी सफेद मूसली का सेवन करना चाहते हैं, यदि हां तो आपने हमारे अभी तक के पोस्ट में सफेद मूसली के फायदे के बारे में तो जान ही चुके होंगे। लेकिन क्या आपको इसके नुकसान के बारे में पता है, यदि नहीं तो कोई बात नहीं आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि इसके फायदे के साथ ही इसके कुछ नुकसान भी है। तो चलिए अब बिना समय गंवाए इसके सभी नुकसान के बारे में बता देते है। जो कि इस प्रकार है

  • यदि आप शुगर की दवा पहले से ही खा रहे है, तो उसके लिए आपको सफेद मूसली के सेवन से बचने की आवश्यकता होगी।
  • भूख की समस्या को कम करने में सफेद मूसली फायदेमंद माना जाता है, लेकिन इससे पाचन तंत्र पर थोड़ा बहुत असर पड़ सकता है।
  • किसी भी चीज का ज्यादा सेवन करेंगे, तो इसका नुकसान आपको जरूर देखने को मिलेगा।
  • वैसे आप अगर ज्यादा सेवन करते है, तो आपको कब्ज की समस्या हो सकती है।

सफेद मूसली कहां से खरीदे? buy online Safed Musli

सफेद मूसली को आप किसी भी आयुर्वेदिक मेडिकल स्टोर से खरीद सकते है। इसके साथ ही यह ऑनलाइन भी उपलब्ध है। आप चाहे तो ऑनलाइन किसी भी मेडिकल एप से सफेद मूसली को घर बैठे प्राप्त कर सकते है।

सफेद मूसली का सेवन करने से पूर्व रखे इन बातों का विशेष ध्यान

दरअसल, सफेद मूसली के कई फायदे देखे गए है और रिसर्च में भी पाया गया है कि इस औषधि के हानि न के बराबर माना जा सकता है। लेकिन फिर भी इसका सेवन करने से से पहले आपको सफेद मूसली का उपयोग करना जरूरी होता है। जो कि इस प्रकार है

  • कभी भी सफेद मूसली को ज्यादा मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए।
  • आपको सफेद मूसली का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से जरूर सलाह लेने की आवश्यकता होगी।
  • आपको गर्भावस्था में सफेद मूसली का सेवन करने के लिए पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी होगी।
  • डायबिटीज जैसी समस्या में आपको डॉक्टर की सलाह के बाद ही सफेद मूसली का उपयोग करना चाहिए।

FAQ about Safed Musli In Hindi

Q1. सफेद मूसली कितने दिनों में असर दिखाता है?

दरअसल, आम तौर पर Patanjali Safed Musli 7 दिनों में अपना असर दिखाना शुरू कर देता है।

Q2. दूध में सफेद मूसली मिलाकर इसका सेवन करने से क्या होता है?

यदि आप दूध में सफेद मूसली मिलाकर आपके शरीर को भरपूर रूप से ऊर्जा देता है। ऐसे में आपको दूध में सफेद मूसली को मिलाकर इसका सेवन करना फायदेमंद साबित हो सकता है।

Q3. सफेद मूसली का सेवन कब और कैसे करना चाहिए?

आप अगर सफेद मूसली के कैप्सूल का सेवन करना चाहते है, तो आप चाहे तो दूध में प्रतिदिन सुबह और शाम में एक कैप्सूल डाल कर सेवन करने की आवश्यकता होगी।

Q4. क्या गर्मी के दिनों में सफेद मूसली का सेवन किया जा सकता है?

जी हां गर्मी के दिनों में भी आप सफेद मूसली का सेवन कर सकते हैं।

निष्कर्ष

आशा करता हूं कि आपको हमारा Safed Musli Ke Fayde nuksan upyog का यह पोस्ट पसंद आया होगा। क्योंकि आज के लेख में मैंने आप सभी को सफेद मूसली के फायदे से संबंधित हर महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान किया है। इसके साथ ही अगर आपको हमारे आज के इस सफेद मूसली के फायदे के पोस्ट को पढ़कर कोई सवाल पूछना हो, तो कमेंट करके पूछ सकते हैं। साथ ही अगर आपको पोस्ट पसंद आए, तो शेयर जरूर करें।


होम पेजयहाँ क्लिक करें
Join our Whatsapp groupयहाँ क्लिक करें
Share on:

you may also like this!