Udiliv 300 Tablet in Hindi – लाभ, फायदे, उपयोग (2022-23)

आज के इस पोस्ट Udiliv 300 Tablet in Hindi के माध्यम से जानेंगें कि Udiliv 300 Tablet क्या है और इसका उपयोग क्यों किया जाता है. Udiliv 300 Tablet का सेवन कब और कैसे करना चाहिए.

नमस्ते दोस्तों, आजकल के समय में पित्त की थैली में पथरी का पाया जाना, अक्सर आम तौर पर देखा जाता है। और पित्त की पथरी होने पर शुरुआती दौर में डॉक्टर दवाइयों से ही इसका इलाज कर देते हैं। तथा पथरी बढ़ने पर ऑपरेशन किया जाता है।

शुरुआती पथरी में अलग-अलग दवाओं का सेवन हम लोग करते हैं। जिनमें से एक दवा है, Udiliv 300 Tablet, शुरुआती पथरी को घोलने  के लिए अक्सर इस दवा का उपयोग आप में से कई लोग करते होंगे।

अगर आप इस दवा का सेवन करते हैं, या इसके बारे में जानकारी लेना चाहते हैं। तो हमारा यह आर्टिकल आपके बहुत काम आ सकता है। हम आपको अपने इस आर्टिकल में इस दवा से जुड़ी बहुत ही बातें बताएंगे।

दोस्तों, दवा से जुड़ी जानकारी के लिए व दवा से जुड़े अपने संशय को दूर करने के लिए हमारी इस पोस्ट से अंत तक जरूर जुड़े रहे।

Udiliv 300 Tablet in Hindi
Udiliv 300 Tablet review in Hindi
Table Of Contents show

Udiliv 300 Tablet क्या होती है? (Udiliv 300 Tablet in Hindi  ) –

Udiliv 300 Tablet एबॉट इंडिया लिमिटेड कंपनी द्वारा बनाई जाने वाली, हेप्टोप्रोटेक्टिव  दवा होती है। जोकि पित्त की थैली में होने वाली पथरी को घोलने या खत्म करने के काम आती है। एक तरफ से पित्त एसिड जैसे ही काम करती है।

खून में बढ़ने वाले कोलेस्ट्रॉल की वजह से पित्त की थैली में होने वाली पथरी की समस्या को दूर करने,  तथा पथरी की वजह से दिखने वाले लक्षणों को दूर करने में इस दवा का मुख्य रूप से उपयोग किया जाता है।

20 mm व्यास तक की पथरी को घोलने में डॉक्टर इस दवा की सलाह देते हैं। भले ही इस का कोर्स लंबे समय तक चलता हो लेकिन दवा पथरी में लाभकारी नजर आती है।

Udiliv 300 Tablet किससे मिलकर बनी होती है? – (Components of Udiliv 300 Tablet )-

यह दवा मुख्य रूप से दो एक्टिव दवाई के मिश्रण से मिलकर बनी होती है –

  1. अर्सोडिआक्सिकएसिड( ursodeoxycholic acid)
  2. अर्सोडायल (Ursodiol 300.0 mg)

यह दोनों एक्टिवकंपोनेंट्स मिलकर इस दवा को असरदार  बनाते हैं। पित्त की पथरी को घोलने के साथ-साथ लिवर को भी प्रोटेक्शन प्रदान करते हैं।

Udiliv 300 Tablet के उपयोग क्या हैं? (Use of Udiliv 300 Tablet in hindi )-

यह दवा मुख्य रूप से कोलेस्ट्रॉल के विरोध में कार्य करने के लिए जानी जाती है। इसके अतिरिक्त इसका उपयोग अन्य परेशानियों में भी किया जाता है।

जैसे-

  • पित्त की पथरी में – खून में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा पड़ती है तो यह पित्त की थैली पर भी असर दिखाती है। कोलेस्ट्रॉल की वजह से पित्त की थैली में बनने वाले  पथरी को घोलने के काम आती है।
  • लिवर की सुरक्षा में – यह एक तरफ से हैपेटॉप्रोटेक्टिव दवा होती है। लिवर की एंजाइम्स की सुरक्षा करती है। तथा लीवर की कोशिकाओं को पचाने के लिए निकलने वाले एसिड से जल्दी से बचाती है ।
  • कई बार लिवर में छोटी मोटी दिक्कत आने पर भी इस दवा का उपयोग किया जाता है।
  • पित्त की पथरी से होने वाले लक्षणों में– कई बार पित्ताशय की पथरी की वजह से पीलिया और सूजन जैसी समस्याएं देखने को मिल जाती है। इनमें भी इस दवा का उपयोग किया जाता है।

Udiliv 300 Tablet कैसे काम करती है? – 

यह दवा एक  हैप्टॉप्रोटेक्टिव दवा है । जोकि मुख्य रूप से ursodeoxycholic acid के संयोजन से मिलकर बनी होती है। अर्सोडिआक्सिकएसिड( ursodeoxycholic acid),  कोलेस्ट्रॉल के बढ़ने या खून से कोलेस्ट्रॉल के उत्सर्जित होकर पित्ताशय में पथरी बनने पर ज्यादा एक्टिव होता है। जैसे ही पित्त में कोलेस्ट्रॉल की वजह से पथरी बनने लगती है तो इस दवा में उपस्थित अर्सोडिआक्सिकएसिडइस पथरी को घोलने का काम शुरू कर देता है। साथ ही लीवर की कोशिकाओं को bile acid से बचाता है। और लिवर के फंक्शन में इंप्रूवमेंट लाता है।

Udiliv 300 Tablet को प्रयोग करने की विधि

  • दवा का सेवन मुख्य रूप से भोजन करने के बाद करना चाहिए ।
  • दवा की मात्रा निर्धारित करने के लिए डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।
  • डॉक्टर्स रोग की स्थिति मरीज की हालत, मरीज की उम्र आदि को देखकर दवा की मात्रा का निर्धारण करते हैं।
  • रोग अभी अधिक है, या कम है, इसके अनुसार ही 1 दिन में दवा की कितनी मात्रा ली जाएगी, इसका निर्धारण करना उचित होगा।
  • दवा का सेवन ठंडे पानी के साथ भी किया जा सकता है। किंतु गर्म पानी के साथ अगर दवा का सेवन हो तो अत्यधिक उचित होगा।
  • साथ ही बिना भोजन की दवा का सेवन न करें।

Udiliv 300 Tablet की कीमत, व इसे online कहा से खरीदें? 

दोस्तों यदि आप Udiliv 300 दवा का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आप इसे अपने आसपास के मेडिकल स्टोर्स से खरीद सकते हैं। मेडिकल स्टोर्स में आपको यह दवा ₹550 से ₹650 तक मिल जाएगी। यदि आप चाहते हैं तो आप इसे ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं, आपको बस घर बैठे नीचे दी गयी वेबसाइट्स पर जाकर इस दवा को आर्डर करना है।

अलग अलग वेबसाइट पर आपको इस दवा की अलग अलग कीमतें देखने को मिल सकती हैं। आप चेक कर सकते हैं कि कहां आपको यह सबसे कम दाम में मिल रही हैऔर आप वहां से इस दवा को घर बैठे मँगवा सकतेहैं।

वेबसाइटकानामक़ीमतमात्रा
Amazon589₹1strip(15 tablets)
1mg694₹  1strip(15 tablets)
Namaste Medico591₹  1strip(15 tablets)
Pharmeasy590₹  1strip(15 tablets)
Apollo Pharmacy590₹  1strip(15 tablets)

इन सभी साइट से आप Udiliv 300 Tablet को दी हुई कीमतों में खरीद सकते हैं ।

Udiliv 300 Tablet के फायदे – (Benefits of  Udiliv 300 Tablet in Hindi )-

इस दवा के बहुत से फायदे होते हैं।

  • पित्त की थैली से जुड़ी समस्याओं में डॉक्टर इसको ज्यादा उपयोग में लाते हैं।
  •  यह दवा 20 mm से छोटी पथरी को जड़ से खत्म करने में, कामयाब रही है।
  • साथ ही अगर आपको पथरी की वजह से पित्ताशय में सूजन, लिवरमे पीलिया जैसी समस्याएं भी देखने को मिलती है तो, यह दवा पथरी की वजह से होने वाली इन दिक्कतों को भी कम करती है।
  • बिना ऑपरेशन की पथरी को खत्म करने के लिए सबसे उत्तम उपाय दवा के जरिए होता है।
  • साथ ही आपको इस दवा की कोई ज्यादा साइड इफेक्ट देखने को नहीं मिलेंगे।

Udiliv 300 Tablet के नुकसान –

  • इस दवा के कोई नुकसान नहीं देखने को मिलते लेकिन अगर इस दवा में उपलब्ध अवयव से आपको एलर्जी है। तो आपको इसके नुकसान हो सकते हैं।
  • साथ ही दवा 20 एमएम से बड़ी पथरी कोठीककरने में असमर्थ होता है। दवा का उपयोग पथरी के खुलने के बाद भी कुछ समय तक करना पड़ता है।
  • यह दवा खून में पढ़ने वाले कोलेस्ट्रॉल की वजह से होने वाली पित्त की थैली की पथरी को ही ठीक कर सकता है।
  • इस दवा से ठीक हुए केसेस में से 5% केस में देखा गया है की ठीक होने के 5 साल के अंदर पथरी वापिस बनने लगती है।
  • दवा का कोर्स लंबे समय तक चलता है। जिस कारण अगर आपको साइड इफेक्ट्स होते हैं तो कोर्स लंबे होने की वजह से साइड इफेक्टस् भी लंबे समय तक चल सकते हैं।

Udiliv 300 Tablet के side effect(side effects of  Udiliv 300 Tablet )-

दवा की कुछ साइड इफेक्ट्स भी देखने को मिलते हैं जिनमें से कुछ नीचे दिए गए हैं। –

  • बालों का झड़ना।
  • शरीर में खुजली होना।
  • कमर में दर्द।
  • उल्टी या मितली का होना।
  • सिर में दर्द का बढ़ना।
  • चेस्ट में दर्द का होना।
  • डायरिया का होना।
  • मांस पेशियों में दर्द का होना।
  • जोड़ों में दर्द का होना।
  • अनिद्रा का बढ़ना।

यही कुछ साइड इफेक्ट आपको इस दवा के देखने को मिल सकते हैं।

अगर आपको इनमें से कोई भी साइड इफेक्ट्स होते हैं, तो तुरंत अपने डॉक्टर की सलाह लें। अगर साइड इफेक्ट बढ़ते हैं तो दवा का सेवन करना बंद कर दें।

Udiliv 300 Tablet से जुड़ी सावधानियां – (precautions related to  Udiliv 300 Tablet). –

इस दवा को लेने से पहले तथा लेने के बाद कुछ सावधानियों का ध्यान रखना अति आवश्यक होता है। जैसे-

  • दवा का सेवन करने से पूर्व डॉक्टर से सलाह जरूर लें।
  • यह दवा बच्चों के लिए उचित नहीं मानी गई है इसे बच्चों के संपर्क से दूर रखें।
  • यदि आप पहले से कोई दवा का सेवन कर रहे हैं। या आपको पहले से कोई रोग है। तो इसकी जानकारी अपने डॉक्टर को अवश्य दें उसके पश्चात ही दवा का कोर्स शुरू करें।
  • यदि आप गर्भवती है, या गर्भवती की प्लानिंग कर रही हैं। तो इसकी जानकारी भी अपने डॉक्टर को दें। उसके पश्चात ही दवा का सेवन शुरू करें।
  • अगर इस दवा के कंपोनेंट्स में से आपको किसी भी कंपोनेंट से एलर्जी है तो दवा का सेवन ना करें।
  • अगर आपको लिवर या गुर्दे से जुड़ी कोई बीमारी है तो, इसकी जानकारी तुरंत अपने डॉक्टर को दें। तथा दवा का सेवन रोक दें यह आपके यहां निकाल भी हो सकती है। डॉक्टर से संपर्क के बाद ही दवा का सेवन करें।

( नोट – कितने ही लोग पथरी को गलाने के लिए मध्यपान का सहारा लेते हैं। कृपया दवा का सेवन शुरू करने के बाद से ही शराब आदि का नशा रोक दें )

निष्कर्ष conclusion

दोस्तों हमने अपने इस आर्टिकल में आपको दवा से जुड़ी सारी जानकारी दी है। इसके लाभ हानि तथा Udiliv 300 Tablet से जुड़ी समस्त जानकारी देने कि हमने पूरी कोशिश की है। अगर आपके मन में इस दवा से जुडे़ कोई संदेह है, तो आप हमें कमेंट कर सकते हैं। हम जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे। यदि आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आती है, तो पोस्ट को लाइक, शेयर व साइट को सब्सक्राइब जरूर करें।

लोगों द्वारा  Udiliv 300 Tablet को लेकर अक्सर पूछे जाने वाले सवाल –

प्रश्न 1 –  क्या यह दवा स्वास्थ्य पर अच्छा असर करती है?

उत्तर – जी हां, अगर दवा का उपयोग सही तरीके से किया जाए तो यह स्वास्थ्य पर अच्छा असर करती है।

प्रश्न 2 –  लिवर रोगों से पीड़ित इस दवा का सेवन कर सकते हैं?

उत्तर – वैसे तो यह दवा लीवर के लिए हानिकारक नहीं है। किंतु फिर भी संबंधित व्यक्ति डॉक्टर से दवा के सेवन से पहले सलाह जरूर लें।

प्रश्न 3 –  क्या इस दवा के सेवन के पश्चात से नींद आती है?

उत्तर – अभी तक इससे जुड़ी कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है।

प्रश्न 4- यह दवा अन्य पथरियों को गलाने में भी काम आती है?

उत्तर – यह दवा केवल पित्त की पथरी को घोवने में समर्थ होती है। साथ ही है 20 mm से ज्यादा बड़ी पथरी को नहीं घोल सकती।

प्रश्न -5 –  दवा का सेवन कितने समय तक करना चाहिए ?

उत्तर – 5 इस दवा का कोर्स लंबा भी चल सकता है। पित्त की पथरी को घुलने में जितना समय लगेगा, उस इतने समय तक आपको दवा का सेवन तो करना ही पड़ेगा। साथ ही साथ पथरी के घुलने के 3 महीने बाद तक दवा का सेवन करना आवश्यक होता है।

प्रश्न -6 – क्या इस दवा से पथरी घुलने के बाद दोबारा पथरी बन सकती है?

उत्तर – 6- पित्त की पथरी में इस दवा का उपयोग करने वाले  मरीजों में से 5 % मरीजों में 5 साल बाद ही पथरी वापिस देखने को मिली है।

Read Also :

  1. cydonia vulgaris q uses in hindi जाने खुराक, फायदे, नुकसान
  2. Tentex Forte Tablet uses in Hindi जाने खुराख,फायदे,नुकसान?
  3. Elixir Neogadine Syrup Uses in Hindi जाने खुराख,फायदे,नुकसान?
  4. Horse Fire Tablet in Hindi जाने फायदे, नुकसान और खुराख?
  5. Miss me tablet uses in hindi फायदे, नुकसान, खुराक,और कीमत
Share on:
you may also like this!

Hi, I’m Sandeep Kumar. A Blogger, Digital Marketer And Social Influencer, i Have A More Than 2 years Of Experience. I Love Technology And Also Love To Share Knowledge On Social Platform

close

You cannot copy content of this page

Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro

Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

Powered By
Best Wordpress Adblock Detecting Plugin | CHP Adblock