सभी 12 राशि के नाम हिंदी और अंग्रेजी मे- Rashi name in hindi

rashi name in hindi and english, all rashi name in hindi and english, scorpio rashi name in hindi, kumbh rashi name in hindi, 12 rashi name in hindi and english, mithun rashi name in hindi, total rashi name in hindi-

दोस्तो, आप सही लेख में आए हुए हैं अगर आप लोग (Rashi name in hindi) 12 राशि के नाम और अक्षर के बारे में पूरी जानकारी चाहते हैं। इस लेख में मैंने आपको बारह राशि नाम बताया है। यह भी हिन्दी, इंग्लिश में । 12 राशि के नाम और अक्षर हिंदी में यहाँ हैं. किसी भी व्यक्ति के नाम के पहले अक्षर को देखकर आप उसकी राशि का पता लगा सकते हैं। यदि आप एक ज्योतिषी नहीं हैं, तो आप नक्षत्र चरण नामाक्षर के बारे में बहुत कुछ नहीं जानते. तो आपको यह राशि जरूर पढ़नी चाहिए ।

rashi name in hindi

मैं आपको बता दू कि हर बारह राशि के अपने अलग-अलग चिन्ह हैं। यद्यपि किसी भी राशि की पहेचान हो सकती है, कई लोग सिर्फ नाम से पहेचान लेते हैं। और बहुत सारे लोग ऐसे हैं जो तस्वीर देखकर पहचान लेते हैं ।अगर आपको सभी बारह राशि (Rashi) के स्वामी के बारे में जानकारी चाहिए, तो कृपया इस लेख को ठीक से पढ़ें। राशि को देख कर यह पता चलता है कि व्यक्ति का आज का दिन कैसा रहेगा क्या सही होगा और क्या गलत होगा, और राशि से यह भी पता लगाया जा सकता है कि आने वाला दिन कैसा होगा ।

शुभ या अशुभ दिन रहेगा, साथ ही कौन सा रत्न और अंक सही रहेगा। हिंदू धर्म के लोगों के नामों की राशि उनके नाम के पहले अक्षर से पता लगती है। यदि आप अपने नाम के प्रत्येक अक्षर का मूल्य जानना चाहते हैं तो इस पेज पर बने रहें। इस पेज पर हम सभी 12 Rashi name in hindi और (Zodiac Signs) के बारे में जानेंगे, हिंदी और अंग्रेजी में।

12 राशियां कौन सी हैं- Rashi name in hindi?

बारह नक्षत्रों से मिलकर और बारह खंड हैं , मेष, वृष, मिथुन, कर्क, सिंह, कन्या, तुला, वृश्चिक, धनु, मकर, कुंभ और मीन में विभाजित होकर 12 राशियां बनती हैं।

राशि कैसे पता करें?

बहुत से लोग इस बारे में सही जानकारी प्राप्त नहीं कर पाते हैं ।यदि वे सही राशि नहीं जानते तो वे जीवन में आने वाली परेशानियों का ज्योतिष अनुसार सही फलादेश नहीं पाते। वास्तविक राशिफल (Horoscope) का पता लगाना आवश्यक है, इसलिए आइए जानते हैं राशियों से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें-

Read More:- Zodiac Signs In Hindi And English – राशि चक्र के संकेत हिंदी में?

राशि नाम हिंदी और अंग्रेजी में?

क्र संराशि नाम हिंदीराशि नाम हिंदी
1.Aries (अरीस)मेष
2.Taurus (तौर्स)वृषभ
3.Gemini (जेमिनी)मिथुन वाहन
4.Cancer (कैंसर)कर्क
5.Leo (लिओ)सिंह
6.Virgo (विर्गो)कन्या
7.Libra (लिब्रा)तुला
8.Scorpius (स्कॉर्पिउस)वृश्चिक
9.Sagittarius (सगीटैरियस)धनु
10.Capricornus (कैप्रिकॉर्नुस)मकर
11.Aquarius (अक्वारिअस)कुम्भ
12.Pisces (पिस्सेस)मीन

राशि के अक्षर in Hindi?

क्र संराशि का नाम12 राशियों के अक्षर
1.मेषचूचे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ
2.वृष/वृषभई, उ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो
3.मिथुनका, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह
4.कर्क ही, हू, हे, हो, डा, डी, डु, डे, डो
5.सिंहमा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे
6.कन्या ढो, प, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो
7.तुलाररी, रू, रे, रो, ता, ति, तू, ते
8.वृश्चिक तो, न, नी, नू, ने, नो, या, यि, यू
9.धनु य, यो, भा, भि, भू, ध, फा, ढ, भे
10.मकर भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी
11.कुम्भगू, गे, गो, स, सी, सू, से, सो, द
12.मीनदी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, च, ची

12 राशियों के स्वामी ग्रह कौन से है?

क्र सं12 राशिस्वामी ग्रह
1.मेष राशि मंगल गृह
2.वृषभ राशिशुक्र गृह
3.मिथुन राशि बुध गृह
4.कर्क राशि चन्द्र देव
5.सिंह राशी सूर्य देव
6.कन्या राशीबुध गृह
7.तुला राशि शुक्र गृह
8.वृश्चिक राशिमंगल गृह
9.धनु राशि गृह ब्रहस्पति
10.मकर राशिशनि देव
11.कुम्भ राशिशनि गृह
12.मीन राशि गृह ब्रहस्पति

12 के राशि संकेत/चिन्ह क्या है?

क्र संराशिचिन्ह
1.मेषमेढा
2.वृष/वृषभबैल
3.मिथुनयुवा दंपत्ति
4.कर्ककैकडा
5.सिंहशेर
6.कन्याकुवारी कन्या
7.तुलातराजू
8.वृश्चिकबिच्छु
9.धनुधनुष, धर्नुधारी
10.मकर मगरमच्छ
11.कुम्भघड़ा, कलश
12.मीनमछली

12 के राशियों चिन्ह?

rashi name in hindi

12 राशियों के नाम और गुण (12 Zodiac Signs (Astrology)

मेष (Mesh)

मेष राशि का नेतृत्व गुण है। इस राशि के लोग हमेशा मदद करने के लिए तैयार हैं। ये निर्भीक हैं। मेष राशि वाले लोगों को दूसरों का आदेश मानना अच्छा नहीं लगता। मंगल, मेष राशि का स्वामी है, जो साहस और उत्साह का प्रतीक है। मेष राशि के जातक खूबसूरत, आकर्षक और रचनात्मक होते हैं। मेष राशि वाले स्वतंत्र विचार हैं।

वृष राशि:

वृष वृषभ राशि का व्यक्ति शांत और नरम होता है। इस राशि के लोग निश्चयी हैं और कठोर से कठोर निर्णय लेते हैं। वृष राशि के लोग अनुशासन से प्यार करते हैं। इस राशि के लोग दिल से सच्चे होते हैं और हर किसी की मदद करने के लिए हमेशा तैयार रहते हैं. वृषभ राशि वाले अपने सिद्धांतों के प्रति काफी पक्के होते है ।

मिथुन राशि (Mithun)

मिथुन राशि वाले लुभावने, आकर्षक और मृदुभाषी होते हैं. ये शारीरिक और मानसिक तौर पर काफी मजबूत होते हैं. ये थोड़े चंचल भी होते हैं, इस कारण ये लोग किसी एक जगह स्थिर नहीं रहते. मिथुन राशि वाले बौद्धिक विचारों को ज्यादा महत्व देते हैं. कम्युनिकेशन स्किल में ऐसे लोग निपुण होते हैं. आप कह सकते हैं कि मिथुन राशि वाले बहुमुखी हैं। जिज्ञासु भी है। ये सभी षड़यंत्रों से दूर रहते हैं।

कर्क राशि:

कर्क राशि के लोग आत्मविश्वासी होते हैं। यह लोग अपने साथी की परवाह करते हैं और उसका भरोसा नहीं तोड़ते। कर्क राशि वाले अपने सिद्धांतों से कभी समझौता नहीं करते। कभी-कभी इन्हें इसके लिए बड़ी कीमत भी चुकानी पड़ती है। कर्क राशि वाले बहुत बुद्धिमान और कूटनीतिज्ञ होते हैं।

सिंह राशि:

सिंह राशि वाले व्यक्ति आकर्षक और व्यस्त होते हैं। सिंह राशि वाले साहसी, महत्वाकांक्षी और निर्भीक होते हैं। ये रौब दिखाने वाले हैं।सिंह राशि वाले सीधी बात करने में यकीन रखते हैं. सिंह राशि वाले रणनीति बनाकर कार्य करने पर यकीन रखते हैं. ये अच्छे बॉस होते हैं. टीम को साथ लेकर चलना इन्हे आता है. सिंह राशि वाले व्यक्ति दूसरों को आदेश देते हैं।

कन्या राशि:

कन्या इस राशि के लोग बहुत बुद्धिमान हैं। ये हर काम को अलग तरह से करते हैं। ये कलात्मक होते हैं. ललित कलाओं में इनकी विशेष रूचि होती है. यह लोग अच्छे आलोचक और पंरपराओं को मानने वाले होते हैं. कन्या राशि वाले लोग अंतर्मुखी स्वभाव के होते हैं और अपनी भावनाओं पर काबू रखते हैं. कन्या राशि वाले यदि किसी बात को मन में ठान लें तो उसे पूरा करके ही मालते हैं. ये रिश्तों पर वफादार रहते हैं।

तुला राशि:

जिन लोगों की तुला राशि होती है वे गंभीर और कैलकुलेटिव हैं. ये लग्जरी लाइफ जीने वाले होते हैं. तुला राशि वाले हर चीज में संतुलन चाहते हैं। ये बिजनेसमैन हैं। इन्हें यात्रा से लाभ मिलता है। ये भी योजना बनाने में माहिर हैं। तुला राशि वाले प्यार में खो जाते हैं। तुला राशि के लोग जीवन में नियंत्रण चाहते हैं। तुला राशि के लोग अच्छे निर्णय लेने वाले भी हैं। इस राशि के लोगों को बहस से बचना चाहिए।

वृश्चिक (Vrishchik) राशि:

वृश्चिक राशि वाले अपने काम पर गंभीरता से विचार करते हैं। ये हर काम पूरी लगन से करते हैं। ये भी सीने में गहरे राज छुपाते हैं, जो उनकी एक विशेषता है। यह बहुत मुश्किल है कि इनके मन में क्या चल रहा है पता लगाना। ये साहसी और बहादुर हैं। वृश्चिक राशि वाले लोग अपना परचम लहराते हैं।

Read More:- पक्षियों के नाम | Birds Name In Hindi And English

Dhanu राशि:

धनु राशि वाले व्यक्ति कुछ विशिष्ट गुणों से संपन्न होते हैं। राशि वाले धनु हंसमुख हैं। धन राशि वाले व्यक्ति अपने विशिष्ट गुणों से किसी को भी अपनी तरफ आकर्षित करते हैं। ये धार्मिक नियमों का पालन करते हैं। धन राशि वाले लोग बहुत महत्वाकांक्षी होते हैं। ये भी दूसरों को प्रेरित करते हैं। ये ज्ञान में भी अच्छे हैं।

Makar राशि:

मकर राशि वाले मेहनती और कुशल हैं। ये बड़े काम करने में दिलचस्पी रखते हैं। मकर राशि वाले सख्त होते हैं। ये भी कम बोलते हैं। इन्हें अधिक हंसी-मजाक नहीं पंसद। ये अपने व्यापार और धन पर गंभीर रहते हैं। इन स्थितियों में लापरवाही नहीं करते। मकर राशि वालों को बहुत जल्दी याद आता है। इनमें परिवार है।

Kumbh राशि:

कुंभ राशि वाले धुन स्थायी हैं। ये अपने काम में लगनशील हैं। कुंभ राशि वाले जातक बुद्धिमानी, सहजता और स्वतंत्रता का प्रतीक हैं। कुंभ राशि वाले लोग साहसी और अद्भुत होते हैं। यह राशि का व्यक्ति दूसरों से अलग सोचता है। इनमें कला है। ये जल्द ही भावुक हो जाते है।

मीन राशि:

जीवन में मीन राशि वाले लोग बहुत सफल होते हैं। ये उच्च शिक्षा प्राप्त करने की कोशिश करते रहते हैं। ये शिक्षा से गंभीर हैं। मीन राशि वाले समाज में बहुत सम्मान पाते हैं। ये अच्छे मार्गदर्शक और नेता हैं। ये समाज के विकास में महत्वपूर्ण योगदान देते हैं। ऐसे लोग भी विदेशों से लाभ उठाते हैं। ये अपने रिश्तों के प्रति वफादार हैं।

लोगो ने यह भी पूछा:- (FAQ)

Q. कितने राशि चिन्ह?

ज्योतिष के अनुसार राशियां वे 12 क्षेत्र हैं, जो सूर्य के मानक का पालन करते हैं। ये राशियां आपके बारे में बहुत कुछ बता सकती हैं जैसे आपके व्यक्तित्व से लेकर आपके लिए कौन सी चीजें अच्छी होंगी

Q. राशि का नाम कैसे प्राप्त करें?

मैष: 21 मार्च से 19 अप्रैल के बीच
वृष: 20 अप्रैल से 20 मई तक:
योग: :21 मई-21 जून
कार्की: 22 जून से 22 जुलाई तक।
सिख: 23 जुलाई से 22 अगस्त तक:
लड़की: 23 अगस्त से 22 सितम्बर तक
तूल: 23 से 23 अक्टूबर

Q. मेरी जन्म तिथि क्या बताती है?

किसी व्यक्ति की जन्मतिथि के सभी अंकों को जोड़कर एक अंक मिलता है। उदाहरण के लिए, 2 सितंबर 1976 की जन्मतिथि का भाग्यांक 7 देगा (2+9+1+9+7+6= 34= 7) यह जन्म के पूर्ण नाम के अक्षरों को संबंधित अंकों (जैसे A=1, D=4) से बदलकर भी किया जा सकता है।

Q. मेरा जन्मांकन क्या है?

संख्याओं में अपना जन्मदिन लिखें और फिर उन सभी को जोड़ें। यदि आपका जन्मदिन 2 नवंबर 1998 या 11 फरवरी 1998 है, तो आप 1+1+2+1+9+9+8 = 31 जोड़ेंगे। जब आपको एक अंक मिलता है, तब तक जोड़ते रहें: इसमें जीवन-पथ संख्या, 3+1

यह भी पढ़े?

निष्कर्ष:-

इस लेख में हम 12 Rashi name in hindi और 12 राशियों के चिन्ह के साथ-साथ अन्य महत्वपूर्ण बातें बताई जाती हैं. इस लेख को पढ़कर आप अपनी राशि का नाम पा सकते हैं। राशि का संकेत है। राशिगुरु का नाम आप राशिओं के अक्षर जानते हैं और उनके अंग्रेजी नाम भी जानते हैं।हिंदू धर्म में, राशि हमारे जीवन का सबसे महत्वपूर्ण दर्शक है, इसलिए ज्योतिषी या पण्डित बच्चे को राशि के अनुसार नाम देते हैं। जिससे वह जीवन प्रयत्न ज्योतिषी से अपनी वर्तमान स्थिति का पता लगा सकता है। अगर आपको किसी राशि से कोई समस्या लगती है तो मुझे कमेंट करके बता सकते हैं। मैं अपनी पूरी कोशिश करूंगी आपके क्वेश्चन का आंसर देने की।


होम पेजयहाँ क्लिक करें
Join our Whatsapp groupयहाँ क्लिक करें
Share on:

you may also like this!