शरीर के अंगो के नाम व कार्य – Body Parts Name in Hindi

body part name in hindi, body parts all name, body parts in hindi, body parts name in hindi, parts of body name in hindi, body parts name hindi and english, sharir ke ango ke naam, full body parts name, 20 body parts name, human body parts name in hindi with picture-

दोस्तों, वैज्ञानिक अभी भी मानव शरीर को पूरी तरह से समझने की कोशिश कर रहे हैं। दोस्तों, मनुष्य का शरीर इस धरती पर बनाया गया सबसे कठिन वस्तुओं में से एक है। दोस्तों, आज के लेख में हम आपको मानव शरीर के अंगों (Body Parts Name in Hindi) के नाम और उनका काम बताने जा रहे हैं। शरीर के अंगों का नामकरण और उनकी भूमिका के साथ बॉडी पार्ट नाम और भी अन्य जानकारी दी है इसलिए इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़े

Table Of Contents show

शरीर के अंगो के नाम- body parts name in Hindi

यह लेख पढ़कर शरीर के अंगों और उनके कामों के बारे में जानेंगे। चलिए लेख में आगे बढ़ते हैं और मानव शरीर और उसके अंगों (भागों) के कामों को समझते हैं। शरीर के अंगों के नाम और उनके कार्य: जैसा कि आप सब जानते हैं, मनुष्य का शरीर कई अंगो से बना है। यह अंग अलग-अलग ऊतक कोशिकाओं से बना है। हम आज इस लेख में Body Parts Name in Hindi संबंधित जानकारी देंगे। मानव शरीर में कौन- कौन से अंगो से मिलकर बना है?

लाखों कोशिकाएं और अंगों से मानव शरीर का संचालन होता है। हम अपने जीवन में काम करने के लिए इन्हीं कोशिकाओं और अंगो का उपयोग करते हैं। तो आइये शरीर के अंगों के नाम और उनके कार्यों को विस्तार से जानते हैं

Body Parts Name in Hindi
Body Parts in Hindi

Read More:- पक्षियों के नाम | Birds Name In Hindi And English

Body Parts Name in Hindi and English?

क्र संbody name englishbody name hindi
1. Arm (आर्म)बांह, भुजा
2.Eye (आई)आँख
3.Figures (फिंगर्स)हाथ की अंगुलियां
4.Toe (टो)पैर की अंगुलियां
5.Heel (हील)एड़ी
6.Shoulder (शोल्डर) कंधे
7.Hair (हेयर) बाल
8.Armpit (आर्मपिट) हाथ के बगल में (कांख)
9.Palm (पाम)हथेली
10.Skull (स्कल)खोपड़ी
11.Trunk (ट्रंक)धड़
12.Bone (बोन) हड्डी
13.Skin (स्किन) त्वचा / चमड़ी
14.Face (फेस) चेहरा
15.Chest (चेस्ट) पुरुष की छाती
16.breast (ब्रेस्ट) स्त्री की छाती
17.Lock (लॉक)बालों की लट
18.Neck (नेक)गर्दन
19.Womb (वॉम्ब) गर्भाशय
20.Forehead (फॉरहेड) ललाट / माथा
21.Mustache (मस्टेक) / Whiskers (व्हिस्कर्स)मूंछ
22.Throat (थ्रोट) गला
23.Cheeks (चीक्स)गाल
24.Lap (लैप)गोद
25.nose (नोज) नाक
26.Eyelid (आईलिड) पलक / पलकें
27.Penis (पेनिस)लिंग
28.Vagina (वजाइना)योनि
29.Blood (ब्लड) रक्त / खून
30.Tooth (टूथ) दांत
31.Brain (ब्रेन) दिमाग
32.Nail (नेल) नाख़ून
33.Eye Brow (आई ब्रॉ)भौहें, भंवर
34.Mouth (माउथ)मुंह / मुख
35.Heart (हार्ट)ह्रदय
36.Hand (हैंड)हाथ
37.Leg (लेग)टांग
38.Thigh (थाई)जांघें
39.Ankle (एंकल)टखना
40.Rib (रिब)पसली
41.Pulse (पल्स) नाड़ी
42.Liver (लिवर) जिगर
43.Lung (लंग)फेफड़ा
44.Bun (बन) बालों का जुड़ा
45.Bile (बाइल) पित्त
46.Trachea (ट्रेकिआ) स्वास नली / कंठनाल
47.Nerve (नर्व)नस
48.Back (बैक) पीठ
49.Wrist (रिस्ट) कलाई
50.Ear (ईयर)कान
51.Skull (स्कल)खोपड़ी
52.Trunk (ट्रंक)धड़
53.Bone (बोन)हड्डी
54.Palm (पाम)हथेली
55.Chest (चेस्ट)पुरुष की छाती
56.jaw (जॉव)जबड़ा
57.Nipple (निप्पल)थन
58.Thigh (थिग)जांघ
59.Lock (लॉक)बालों की लट
60.Joint (जॉइंट)जोड़
61.Nostril (नोस्ट्रिल)नथुना
62.Ven (वेन)नस
63.Belly (बेली)पेट
64.Back (बैक)पीठ
65.Chin (चिन)ठुड्डी
66.Sole (सोल)तलवा
67.Palate (पलटे)तालू
68.Beard (बियर्ड)दाढ़ी
69.Fist (फिस्ट)मुट्ठी
70.Smiley Face (स्माइली फेस)हंसमुख
71.Hip (हिप)कुल्हा
72.Navel (नैवेल)नाभि

शरीर के अंदर के अंगों के नाम

शारीरिक स्वास्थ्य के प्रति हमारी जागरूकता में शरीर के अंदर के अंगों के नाम महत्वपूर्ण हैं। इन अंगों को उनके कार्यों में ही नहीं, हमारे दिनचर्या में भी महत्वपूर्ण माना जाता है। प्रत्येक अंग एक विशिष्ट काम करता है और हमारे जीवन को खुशहाल बनाने में मदद करता है। शरीर के अंगों, जैसे जीभ, कान, नाक, आँखें और मुख, हमारे संवाद का माध्यम बनते हैं और हमें व्यक्तिगत अभिवादन देते हैं।

जबकि हाथ और पैर शरीर की गतिविधियों के लिए महत्वपूर्ण होते हैं, दिल, फेफड़े, आत्मा और पेट जैसे अंग कई महत्वपूर्ण काम करते हैं और हमारे शारीरिक स्वास्थ्य के लिए आवश्यक हैं। नियमित रूप से इन सभी अंगों का देखभाल करना हमारे जीवन को स्वस्थ और सुखमय बनाने में मदद करता है।

names of parts of the body hindinames of parts of the body english
आंतIntestine (इंटेस्टाइन)
छोटी आंतSmall intestine (स्माल इंटेस्टाइन)
बड़ी आंत large intestine (लार्ज इंटेस्टाइन)
गुदा Anus (एनस)
कंठ Larynx (लरीनक्स)
नस Nerve (नर्व)
पंजाPaw (पॉ)
पसली Rib (रिब)
माँसपेशीMuscles (मसल्स)
पिंडली Calf (काफ)
कान का परदा Eardrum (ईयरड्रम)
गर्भाशयUterus (यूटेरस)
बालों का जूडा Bun (बन)
तर्जनी Index Finger (इंडेक्स फिंगर)
दाढ़ Molar Teeth (मोलर टीथ)
नाड़ीPulse (पल्स)
पित्त Bile (बाइल)
तिल्ली Spleen (स्प्लीन)
भ्रूण Embryo (एम्ब्रायो)
मूत्राशय Urinary Bladder (यूरिनरी ब्लैडर)
स्वास नली, कंठनालTrachea (ट्रेकिआ)
जिगर Liver (लिवर)
फेफड़ाLung (लंग)
थाइरोइडThyroid – (थइरोइड)
बाल्यग्रन्थिThymus – (थाइमस)
हृदय, दिलHeart – (हार्ट)
किडनीKidney – (किडनी)
मूत्राशयBladder – (ब्लैडर)
आँतintestines – (इंटेस्टिन्स )
प्रजनन अंगReproductive System – (रिप्रोडक्टिव सिस्टम)
दिमागBrain – (ब्रेन)
यकृतLiver – (लिवर)
आमाशयStomach – (स्टोमच)
अग्न्याशयPancreas – (पैनक्रिअस)

मानव शरीर के अंगों का क्या काम है?

मानव शरीर के विभिन्न अंगों और उनके कार्यों का महत्व व्यक्तिगत स्वास्थ्य और सामाजिक संजीवन के लिए है। मुख, दाँत, आँखें, कान और नाक, साथ ही देखने, सुनने, स्वादने, गंधने और बोलने की क्षमता के लिए अदरके महत्वपूर्ण हैं। हमारे हाथ और पैर काम करने के लिए आवश्यक हैं, और इन्हीं के माध्यम से हम अपने आस-पास की विशिष्ट दुनिया से जुड़ सकते हैं। दिल और फेफड़े शरीर में अक्सीजन को पहुँचाने और खराब रक्त को साफ करने में महत्वपूर्ण हैं। आत्मा मन और बुद्धि के कार्यों को संचालित करती है, और पेट खाना संभालता है। इन सभी अंगों को सही तरह से चलाने और बचाने के लिए स्वस्थ जीवनशैली, आहार और व्यायाम महत्वपूर्ण हैं।

#1. कान के कार्य:-

body parts name in hindi

हमारे शरीर के सिर पर स्थित कान एक महत्वपूर्ण इंद्रियों है। कान का मुख्य कार्य शब्द या ध्वनि सुनना है। यह श्रवण वर्ग में आवाज़ पहुँचाने का काम करता है, ताकि हम आसपास की आवाज़ों को सुन और समझ सकें। कान की जटिल संरचना में कान की ड्रम (ताब्दीलिक), कान की पट्टियाँ (कोक्लियर) और कान की पूर्विका (आउडिटरी कैनल) शामिल हैं। जब ये सभी भाग मिलकर काम करते हैं, तो ध्वनि को सुनने में आसानी होती है।

कान के माध्यम से ध्वनि बहुत महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करने में मदद करती है, जैसे कि आसपास की घटनाओं को सुनना, संवाद करना और सुरक्षित रूप से आसपास के वातावरण के संकेतों को पहचानना। हमारे कान का यह हिस्सा हमारे जीवन में बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि इसके बिना हम ध्वनि सुन नहीं सकते।

#2. आंख के कार्य:-

body parts name in hindi

हमारे शरीर में स्थित आंखें भी एक महत्वपूर्ण इंद्रियों हैं। आंखों का काम चीर्ष्य या दृश्य देखना होता है। इन्हें दृश्य संवाद का माध्यम माना जाता है, जो हमें आसपास के वातावरण, व्यक्ति और वस्तुओं को पहचानने और समझने में मदद करता है।

आंखें कुछ महत्वपूर्ण अंगों से मिलकर काम करती हैं, जैसे आंख का कोना (कॉरिया), लैंस (द्रष्टि को फोकस करने के लिए), रेटिना (दृश्य को संवाद में बदलता है), और ऑप्टिक नर्व (दृश्य के संकेतों को मस्तिष्क तक पहुंचाता है)। ये अंग मिलकर दृश्य को हमारे मस्तिष्क में एक चित्र बनाते हैं, जिसे हम समझते हैं।

हमारे आंखें भी हमारे भावनाओं को व्यक्त करने में मदद करती हैं, जैसे खुशी, दुख, डर, आदि। हमारे चेहरे पर व्यक्त हुई भावनाएं आंखों के माध्यम से दिखाई देती हैं।

हमारे जीवन में आंखें बहुत महत्वपूर्ण हैं और हमारे सांस्कृतिक, सामाजिक और व्यावसायिक जीवन में कई रूपों में इस्तेमाल होती हैं।

#3. नाक के कार्य:-

body parts name in hindi

नाक हमारे शरीर के चेहरे के मध्य भाग में स्थित है और कई महत्वपूर्ण काम करता है:

श्वासन: श्वास लेना हमारी नाक का मुख्य काम है। नाक वायुमार्ग का एक हिस्सा है, जो हमें कार्बन डाइऑक्साइड को एक्सहेल करने और अक्सिजन को इनहेल करने में मदद करता है।

गंध की पहचान: नाक गंध को पहचान सकती है। यह आपको अनेक प्रकार की खुशबूओं और भोजन का स्वाद जानने में मदद करता है।

अग्निदीपन: नाक के अंदर नेत्र श्वासन के दौरान आपके मुख के आसपास की काण्डीया (Sinuses) होती हैं, जो वायुमार्ग को गर्म और मोइस्ट (नम) रखने में मदद करती हैं, जिससे श्वासन आसानी से होता है।

नाक से संकेतों की पहचान (संकेतों की पहचान): नाक की मोतीलता और अंतर्निहित संरचना से कई प्रकार की खुशबू, वायुमंडलीय संकेत और अन्य अनुभवों का पता चलता है। इससे आपको खुशबू का अनुभव करने में मदद मिल सकती है और आपको खतरा की जानकारी मिल सकती है।

सुरक्षित: नाक भी गंदगी, कीटाणु और प्रदूषकों से श्वासन मार्ग को बचाता है।

कुल मिलाकर, नाक हमारे जीवन में बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि यह कई कामों में महत्वपूर्ण है, जैसे श्वासन, गंध की पहचान और सुरक्षा।

#4. मुख के कार्य:-

body parts name in hindi

हमारे शरीर का एक महत्वपूर्ण अंग, मुँह, कई महत्वपूर्ण काम करता है:

खानपान: मुँह का काम खाना बनाना होता है। आपका शरीर यह खाना चबाने, पिस्ते और पीने में मदद करता है।

वक्ता: ध्वनि को बनाने में मुँह की विभिन्न संरचनाएँ, जैसे जीवनड (टंग) का योगदान होता है। इससे आप बोल सकते हैं, या बोल सकते हैं, और अपने भावनाओं और विचारों को दूसरों से साझा कर सकते हैं।

स्वाद: मुँह की भित्ति और जीभ में स्वाद बुद्धि होती है, जो आपको भोजन का स्वाद महसूस करने में मदद करती है। यह आपको विभिन्न रसों (स्वादों) को जानने में मदद करता है, जैसे मीठा, खट्टा, तीखा, आदि।

दंत स्वास्थ्य: मुँह और दंतों की संरचना के कारण मुँह और दंतों की सुरक्षा भी महत्वपूर्ण है।

सुरक्षा: मुँह भी आपको बचाता है। यह खतरनाक पदार्थों को बाहर रखने में मदद करता है और खाने पीने की चीजों को शरीर में जाने से रोकता है।

संक्षेप में, हमारा मुँह हमारी वाणी, स्वाद, खानपान और दंत स्वास्थ्य के साथ-साथ अन्य महत्वपूर्ण कार्यों में महत्वपूर्ण है और हमारे जीवन में महत्वपूर्ण योगदान देता है।

#5. दिल के कार्य:-

body parts name in hindi

हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग दिल है, जो कई महत्वपूर्ण काम करता है:

रक्त पंपना: दिल का सबसे बड़ा काम रक्त पंपना है। यह शरीर के सभी हिस्सों और अंगों में रक्त को पहुँचाने के लिए एक पंप की तरह काम करता है।

जीवन दायक गैस: दिल फेफड़ों में रक्त पहुँचने के बाद ऑक्सीजन को वहाँ से ले जाता है और उसे शरीर के हर कोण तक पहुंचाता है। शरीर के अन्य कार्यों के लिए यह ऑक्सीजन आवश्यक है।

संधिकूप: दिल की मदद से रक्त संचालित होता है, जिससे शरीर के सभी अंगों तक पोषण पहुँचता है और आवश्यक तत्वों का प्रवाह होता है।

रक्तचाप नियंत्रण (Blood Pressure Control): दिल रक्तचाप को नियंत्रित करता है और सही स्तर पर रखता है।

एक्सक्रेशन: दिल शरीर से अनावश्यक कार्बन डाइऑक्साइड को बाहर निकालता है।

होर्मोन संचालन: दिल कई होर्मोनों को संचालित करता है जो शरीर के कई कामों को नियंत्रित करते हैं, जैसे थायराइड हॉर्मोन।

रसायन हस्तांतरण: दिल के माध्यम से शरीर के विभिन्न हिस्सों में अलग-अलग रसायन भेजे जाते हैं, जो अतिरिक्त महत्वपूर्ण कार्यों के लिए आवश्यक हैं।

दिल हमारे शरीर के लिए बहुत महत्वपूर्ण है और संरचनात्मक और बायोलॉजिक रूप से हमारे जीवन में महत्वपूर्ण योगदान देता है। हमारे शरीर बिना इसके काम नहीं कर सकता।

#6. गुदा के कार्य:-

body parts name in hindi

हमारे पाचन तंत्र (Digestive System) का एक भाग गुदा है, जो कई महत्वपूर्ण काम करता है:

मल निकास: गुदा का मुख्य काम है शरीर से मल निकालना। गुदा के माध्यम से अनुभवी आक्रमण से निकलने वाले निर्मित मल को निकाला जाता है जब आहार शरीर में पाचा जाता है और शरीर को आवश्यक पौष्टिक तत्व मिलते हैं।

स्वाद (Sensation): गुदा आपको मल बाहर आने की भावना देता है। स्वादना एक ऐसा अनुभव हो सकता है जो आपको मल के निकलने के बारे में बताता है।

वायुमार्ग (गैस पारगमन): गुदा भी वायुमार्ग बनाता है, जिससे शरीर से अतिरिक्त गैसेस बाहर निकल सकते हैं।

बचाव (protectiveness): गुदा भी खतरनाक पदार्थों को अंदर नहीं जाने देता, जो संक्रमण और अन्य स्वास्थ्य समस्याओं से बचाता है।

गुदा पाचन तंत्र में महत्वपूर्ण है और आवश्यक कार्यों, जैसे मल निकास, स्वादन और बचाव, करने में भी महत्वपूर्ण है।

#7. आंत के कार्य:-

body parts name in hindi

हमारे पाचन तंत्र (Digestive System) का एक महत्वपूर्ण हिस्सा आंत है, जो कई महत्वपूर्ण कार्य करता है:

आहार का पाचन: आहार को आंत में पाचन किया जाता है। यहां, पाचन तंत्र और सायकलस्ट्रेशन की मदद से भोजन के पोषक तत्वों को छोटे-छोटे टुकड़ों में विभाजित किया जाता है, जिससे वे शरीर के अन्य भागों तक पहुंच सकें।

पोषण तत्वों का अवशोषण: आंत शरीर के अन्य भागों तक आहार से पोषक तत्वों को पहुंचाता है। यहां खाद्य पदार्थों में मौजूद पोषक तत्वों को रक्त संवाद के माध्यम से शरीर के अन्य अंगों और ऊर्जा उत्पादन के लिए भेजा जाता है।

पानी और इलेक्ट्रोलाइट का संतुलन: शरीर में पानी और इलेक्ट्रोलाइट का संतुलन बनाए रखने में आंत का योगदान महत्वपूर्ण है। यहां, रक्त संवाद पानी और इलेक्ट्रोलाइट्स को नियंत्रित करता है ताकि शरीर संतुलित रहे।

आंतरिक परिसर की सुरक्षा: आंत में कई प्रकार के गुदा बैक्टीरिया होते हैं, जो पाचन में मदद करते हैं और बीमारियों से लड़ते हैं। आंत और आंतिक क्षेत्र को भी बचाता है।

मल निकास: मल को शरीर से निकालना भी आंत का एक महत्वपूर्ण काम है। यहां पर शरीर से मल को बाहर निकालने के लिए बचा हुआ पानी और अन्य अपशिष्टों को अवशोषित किया जाता है।

हमारे पाचन तंत्र का एक महत्वपूर्ण हिस्सा आंत है; यह आहार के पाचन, पोषण तत्वों के अवशोषण, जल और इलेक्ट्रोलाइट के संतुलन, और आंतिक क्षेत्र की सुरक्षा करता है।

#8. किडनी के कार्य:-

body parts name in hindi

किडनी शरीर में महत्वपूर्ण अंग हैं क्योंकि वे उपन्यासुक और शक्ति बनाने, खुन को साफ करने और आवश्यक अपशिष्टों को बाहर निकालने में मदद करते हैं। यह रक्त को शुद्ध करके विषैले पदार्थों को निकालने में मदद करता है, अल्दोस्टेरोन के साथ सॉडियम और पोटैसियम के स्त्राव को नियंत्रित करता है, और उरीन में मलद्वार के माध्यम से विषादित अपशिष्ट को निकालता है। किडनी भी शरीर के पानी और इलेक्ट्रोलाइट स्त्राव को नियंत्रित करके भौतिक और केमिकल संतुलन को बनाए रखती है।

Read More:- सभी 12 राशि के नाम हिंदी और अंग्रेजी मे- Rashi Name In Hindi

#9. हड्डी के कार्य:-

body parts name in hindi

हमारे शरीर के मुख्य संरचनात्मक तंतु हड्डियाँ हैं, जो कई महत्वपूर्ण काम करती हैं। ये काम महत्वपूर्ण हैं:

संरचना (मदद): हड्डियाँ शरीर को सहारा देती हैं और इसकी संरचना बनाए रखती हैं।

संरक्षण: कुछ हड्डियाँ शरीर के अंदरीय अंगों को सुरक्षित रखते हैं, जैसे दिमाग को क्रानियम हड्डी।

गतिविधि (कार्य): हड्डियाँ जोड़ों के साथ मिलकर हमारी गतिविधियों, जैसे चलना, दौड़ना और बदलते रुखों में मांड़लना, करने में मदद करती हैं।

उद्रेक (blood cell production): हड्डियाँ, विशेष रूप से संकुचित हड्डियाँ, रक्त कोशिकाओं की उत्पत्ति में सहायक हैं।

शरीर के तंतु संरचना (रखने के लिए शरीर का आकार): हड्डियाँ शरीर की आकृति और संरचना को बनाए रखने में मदद करती हैं और इसे स्थिर रखती हैं।

हड्डियाँ हमारे शरीर के लिए बहुत महत्वपूर्ण संरचनात्मक भाग हैं और बिना इनके हमारे शरीर की सांचो नहीं चल सकती हैं।

#10. गर्दन के कार्य:-

body parts name in hindi

शरीर का एक महत्वपूर्ण हिस्सा गर्दन कई महत्वपूर्ण कार्य करती है।

समर्थन (मदद): गर्दन शिरों, चेहरे और मस्तिष्क को सहारा और सहयोग देती है।

गतिविधि (कार्य): गर्दन हमें मुँह खोलने, दिशाओं में सिर घुमाने और अन्य उच्चांग गतिविधियों में मदद करता है।

ध्वनि उत्पादन: गर्दन वाणी विकास में महत्वपूर्ण है, जैसे बोलने और गाने में गला वायलेंस का उपयोग करना।

रक्त संचालन: गर्दन में रक्त का प्रवाह और संचालन होता है, जो सिर तक पोहचता है और उसे भोजन प्रदान करता है।

नसों और स्नायुओं का सहयोग: गर्दन नसों और स्नायुओं को मदद करता है और मस्तिष्क और अन्य अंगों के साथ संयोजन बनाए रखता है।

गर्दन इन कार्यों के माध्यम से हमारे दैनिक जीवन के कई हिस्सों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है और हमारे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी महत्वपूर्ण है।

20 Body Parts Name in Hindi?

यहां 20 मानव शरीर के अंगों के नाम हैं हिंदी में ये अंग हमारे शरीर का महत्वपूर्ण हिस्से होते हैं और हमारी दैनिक गतिविधियों के लिए आवश्यक होते हैं।

  1. सिर (Head)
  2. कान (Ear)
  3. आँख (Eye)
  4. नाक (Nose)
  5. मुँह (Mouth)
  6. गला (Throat)
  7. होंठ (Lips)
  8. दाँत (Teeth)
  9. जीभ (Tongue)
  10. बाल (Hair)
  11. गरदन (Neck)
  12. कंधा (Shoulder)
  13. हाथ (Arm)
  14. कलाई (Wrist)
  15. हाथी (Hand)
  16. ऊँगली (Finger)
  17. पेट (Stomach)
  18. पीठ (Back)
  19. पैर (Leg)
  20. पाँव (Foot)

मानव शरीर के Amazing Fact in Hindi?

मानव शरीर एक आश्चर्यजनक और विशिष्ट जीवन यंत्र है, जिसमें कई दिलचस्प तथ्य हैं:

  • मानव शरीर में सबसे छोटी हड्डी कान है, जिसका आकार 0.25 सेंटीमीटर है। चावल के दाने से भी छोटी यह हड्डी है।
  • वैज्ञानिकों का कहना है कि मानव शरीर के मस्तिष्क में इतनी तंत्रिका कोशिकाएं हैं कि उनकी संख्या को गिनने में लगभग 3,000 साल लग जाएंगे।
  • जांघ की हड्डी, जिसका आकार लगभग 46 सेंटीमीटर है, मनुष्य शरीर की सबसे लम्बी हड्डी है।
  • जब तक वह जीवित रहता है, एक औसत व्यक्ति लगभग 1,00,000 मील या 1,60,934 किमी पैदल चलता है।
  • जबड़े की मांसपेशी मनुष्य शरीर में सबसे मजबूत है।
  • वयस्क व्यक्ति के पैरों में लगभग पांच लाख से अधिक पसीने की ग्रंथियां होती हैं।
  • पांचन तंत्र में लगभग पांच पाउंड बैक्टेरिया होते हैं।
  • ज्यादातर लोग अपने पूरे जीवनकाल में लगभग 35 टन से अधिक खाना खाते हैं।
  • ओलफैक्टोरी बल्ब, मानव नाक के नीचे के तख्त, हमारी गंध को पहचानने की क्षमता को तैयार करता है। हम वास्तव में गंध के स्रोत को छूने के बिना भी गंध को महसूस कर सकते हैं।
  • मानव आवाज़ का विवादग्रस्त पक्ष: शब्द, वॉकल फोल्ड, मानव स्वर से उत्पन्न होता है। यह फ़ीचर हमें बोलने की क्षमता प्रदान करता है, साथ ही हमें मानव से अलग होने का गर्व दिलाता है।
  • मानव आँखों में समर्पण क्षमता:मानव आँख के कोनों में 1.5 किलोमीटर तक की समर्पण शक्ति है, जो हमें दूर की वस्तुओं को देखने में सक्षम बनाता है।
  • त्वचा की मात्रा: मानव त्वचा, अन्य अंगों के साथ मिलाकर, लगभग १५% तक का शरीर का वजन बनाती है।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल:- (FAQ)

Q: संवेदी अंग क्या हैं?

संक्षेप में, आंख, कान, नाक, जीभ और त्वचा संवेदी अंग हैं।

Q: मानव शरीर में सबसे बड़ा अंग कौन सा है?

मानव शरीर का सबसे बड़ा भाग त्वचा है।

Q: मानव शरीर में सबसे छोटा अंग कौन सा है?

पीनियल ग्रंथि मानव शरीर का सबसे छोटा अंग है।

Q: मानव शरीर में सबसे बड़ी हड्डी का क्या नाम है?

साथ ही, फीमर (मानव शरीर की सबसे बड़ी हड्डी) हमारी जांघो में होता है।

Q: मानव शरीर की सबसे छोटी हड्डी कहाँ मिलती है?

कान की स्टेपीज मानव शरीर की सबसे छोटी हड्डी हैं।

Q: इंग्लिश में शरीर का क्या अर्थ है?

BODY

Q: कमर को इंग्लिश में क्या कहेंगे?

इंग्लिश में कमर को waist कहते हैं।

Q: कितने प्रकार की गंध एक आम आदमी की नाक से पहचान सकता है?

1 ट्रिलियन से भी अधिक गंधों को एक औसत मानव की नाक पहचान सकती है।

Q: एक व्यक्ति की रीढ़ में कुल कितनी हड्डियां होती हैं?

मानव शरीर की रीढ़ में 33 हड्डियां होती हैं।

Q: मनुष्य की आँखों में कितनी मेगा पिक्सेल होती हैं?

मनुष्य की आँखें 576 मेगा पिक्सेल की होती हैं।

Q. मानव शरीर में कुल 9 प्रकार के तंत्रिका तंत्र हैं, प्रत्येक का नाम इस प्रकार है:

पाचन प्रणाली
श्वसन प्रणाली
उत्सर्जन तंत्र
तंत्रिका तंत्र
परिसंचरण तंत्र
कंकाल तंत्र
अतः स्रावी तंत्र
प्रजनन तंत्र
मांसपेशी तंत्र

इन्हे भी पढ़े?

निष्कर्ष:-

यहाँ पर हमने आपको human body parts name in hindi and english में सभी जानकारी को स्टेप बाय स्टेप बताया है। इस पोस्ट में आप बाहरी भागों और अंदरूनी भागों के नामों को एक साथ देखेंगे। आशा करते है यह जानकारी आपको जरूर पसंद आयी होगी यह पोस्ट अपने दोस्तों से अवश्य शेयर करें। और अगर आपका इस पोस्ट से रिलेटेड कोई भी क्वेश्चन है तो आप कमेंट बॉक्स में अपना क्वेश्चन टाइप कर सकते हैं हमारी टेंशन आपके क्वेश्चन का आंसर देने की कोशिश करेगी , इस लेख को अंत तक पढ़ने के लिए आपका बहुत धन्यवाद!

4.5/5 - (2 votes)

You cannot copy content of this page