हिंदी में एप्लीकेशन कैसे लिखे | Write Application In Hindi

Rate this post

जीवन में कभी न कभी एप्लीकेशन लिखने की जरूरत पड़ती ही है। अब ऐसे में Application Kaise likhe इसके बारे में हमें पता होना भी जरूरी होता है। क्योंकि एप्लीकेशन लिखने की जरूरत कभी बैंक के कार्य में तो कभी स्कूल या कॉलेज में पड़ जाती है। सरल शब्दों में समझा जाए तो हमारे जीवन में कई ऐसे कार्य है, जिनको पूरा करने के लिए Application लिखने की जरूरत होती है।

ऐसे में कई व्यक्ति को एप्लीकेशन कैसे लिखा जाता है इसके बारे में पता ही नहीं। यदि आप भी इन लोगों में शामिल है, तो आपके लिए हमारा आज का पोस्ट काफी महत्वपूर्ण साबित हो सकता है। क्योंकि आज के लेख में मैं आप सभी को Application Kaise Likha Jata Hai से संबंधित हर महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने वाला हूं।

इसलिए आप सभी को हमारे आज के इस पोस्ट को पूरा पूरा जरूर पढ़ना है। आज मैंने आपको विस्तार से आवेदन पत्र लिखने की प्रक्रिया के बारे में समझाया है। वही हम यकीन के साथ कह सकते है कि आज के पोस्ट को अंत तक पढ़कर आपको Application लिखना तो जरूर आ जाएगा।

How To Write Application In Hindi
Application Kaise likhe

Application लिखना आना क्यों जरूरी है? – How To Write Application In Hindi

वर्तमान समय में खुद से आवेदन पत्र लिखना काफी महत्वपूर्ण हो गया है। क्योंकि वर्तमान में कब और किस काम के लिए आवेदन लिखना पड़ जाए ये कहा नही जा सकता। मान लेते है कि आप कॉलेज में क्लास करने गए और अचानक से आपका स्वास्थ खराब हो जाता है और आपको तुरंत छुट्टी लेने की नौबत आ जाती है, तो इस सिचुएशन में आपको छुट्टी लेने के लिए आवेदन लिखना पड़ सकता है।

अब ऐसे में कई छात्रों को एप्लीकेशन लिखना नहीं आता, तो वे अपने दोस्तों की हेल्प लेते है। लेकिन अगर आप भी एप्लीकेशन लिखने के लिए दोस्तों की हेल्प ले रहे है, तो ये कब तक ऐसे ही चलेगा। कभी न कभी तो आपको खुद एप्लीकेशन लिखना सीखना होगा। तो यकीनन आपको एप्लीकेशन लिखना आना क्यों जरूरी है ये समझ में आ गया होगा।

Application क्या होता है | Application in Hindi

एप्लीकेशन लिखने से पूर्व एप्लीकेशन क्या है, इसके बारे में पता होना जरूरी होता है। तो यदि हम Application की बात करें, तो इसका अर्थ “आवेदन” होता है। यदि आपको अपनी बातों को लिखित तौर पर किसी को कहना है या यदि आपको अपनी परेशानी को खत्म करने के लिए किसी की मदद चाहिए, तो उसके लिए आपको लिखित तौर पर उनको अपनी समस्या के बारे में बताना चाहिए।

यदि आप लिखित तौर पर किसी को अपनी समस्या बताते है, तो उसे हम आवेदन (Application) कहते है। आवेदन का मुख्य अर्थ किसी व्यक्ति से “निवेदन कारण” होता है। अब हिंदी एप्लीकेशन के प्रकार क्या है चलिए इसके बारे में भी जान लेते है।

Read Also : English पढ़ना कैसे सीखें? जानें 12 आसान Steps में

Application के प्रकार

आपने भी तक के लेख से इतना तो जान ही चुके होंगे कि एप्लीकेशन का मुख्य मतलब किसी से निवेदन करना है। वही आज के समय में सरकारी, गैरसरकारी कार्यों में, शैक्षणिक कार्यों में तथा विभागों इत्यादि में आवेदन का इस्तेमाल किया ही जाता है। अगर आपको इन सभी स्थानों पर किसी भी तरह का कोई भी कार्य है, तो उसके लिए आपको आवेदन लिखने की जरूरत होती ही है। जिसके बाद ही आपका काम पूरा हो सकता है।

इसके अनुसार हिंदी में आवेदन लिखने के कई सारे प्रकार होते है। तो क्या आप भी हिंदी में आवेदन लिखने के प्रकार के बारे में जानना चाहते हैं, यदि हां तो आगे के लेख को ध्यान पूर्वक पढ़ें। जो कि इस प्रकार है

  • बैंक के लिए आवेदन
  • नौकरी के लिए आवेदन
  • टीसी के लिए आवेदन
  • CLC के लिए आवेदन
  • प्रिंसिपल के लिए आवेदन
  • छुट्टी के लिए आवेदन
  • पुलिस कंप्लेंट के लिए आवेदन
  • जिला न्यायाधीश के लिए आवेदन
  • एडमिशन के लिए आवेदन
  • किसी उच्च अधिकारी के लिए आवेदन
  • SLC के लिए आवेदन

हिंदी में एप्लीकेशन कैसे लिखा जाता है? – Application Kaise likhe Hindi Me

क्या आप भी हिंदी में एप्लीकेशन लिखना सीखना चाहते हैं, यदि हां तो उसके लिए आपको नीचे के स्टेप्स को Follow करने की आवश्यकता होगी। क्योंकि नीचे के स्टेप्स में आपको विस्तार से हिंदी में एप्लीकेशन लिखने के प्रोसेस के बारे में जानकारी प्रदान किया गया है। जो कि इस प्रकार है

1 . सबसे पहले अभिवादन (Salutation) लिखना है

हिंदी या अंग्रेजी किसी भी भाषा में एप्लीकेशन लिखने से पूर्व अभिवादन लिखना जरूरी होता है। जैसे कि जब भी हम बाहर में अपने से बड़े व्यक्ति से मिलते ही प्रणाम या नमस्ते कह कर उन्हें इज्जत देते है ठीक उसी प्रकार आप जिसे भी एप्लीकेशन लिख रहें है उन्हें अभिवादन लिखकर इज्जत जरूरी दें।

  • जैसे कि स्टार्टिंग में ही आपको एप्लीकेशन लिखने से पूर्व लिखना है “सेवा में”। दरअसल, यह लिखना एप्लीकेशन लिखने का पहला नियम है।
  • अब सेवा में, लिखने के बाद आपको इसके नीचे उसका नाम और उसके नीचे उसका एड्रेस लिखना है जिसको आप एप्लीकेशन लिख रहें हों।
  • अब नाम के ठीक नीचे एड्रेस लिखने के बाद आपको विषय यानी Subject के बारे में लिखने की जरूरत होगी।
  • आपको विषय में लिखना हो की आप किस लिए आवेदन लिख रहें है और क्यों।
  • इस फॉर्मेट के लास्ट में आपको महाशय या महोदय लिखना होता है।

2 . अब मैसेज यानी सूचना लिखें

अब महोदय या महाशय लिखने के बाद आप जो भी कहना चाहते है यानी की आप इस एप्लीकेशन को क्यों लिख रहे है यह सूचना आपको विस्तार से लिखने की जरूरत होगी। लेकिन ध्यान रहें आपको अपनी बात कम से कम शब्दों में और साफ सुथरा लिखना होगा।

हालांकि, आवेदन लिखने से पूर्व आपको शुरुआत में “सविनय निवेदन यह है कि” शब्द का उपयोग जरूर करना है। इस शब्द के प्रयोग से पढ़ने वाले के नजर में आपका इंप्रेशन बढ़ेगा ही और साथ ही इससे आप सामने वाले को इज्जत भी दे सकते है।

3 . धन्यवाद संदेश दें

जब आप अपना संदेश अच्छी तरह से लिख लेंगे तब आपको नीचे के पैराग्राफ में “मैं आपका सदेव आभारी रहूंगा या रहूंगी” शब्द का प्रयोग जरूर करें। इससे एप्लीकेशन पढ़ने वाले व्यक्ति के मन में आपका इंप्रेशन जरूर बढ़ेगा।

4 . अब डेट लिखना होगा

अब आप जिस तारीख को इस आवेदन को लिख रहें है, वो तारीख दर्शाने की आवश्यकता होगी। दरअसल, एप्लीकेशन के दाए या बाए किसी भी तरह तारीख लिखा जा सकता है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

5 . अब यहां पर अपना नाम, मोबाइल नंबर और सिग्नेचर करें

जब अभी तक के प्रक्रिया को आप जैसे जैसे फॉलो कर आवेदन लिख लेंगे, तो उसके बाद आपको एप्लीकेशन के दाए तरफ “आपका विश्वासी” शब्द लिखना है। फिर इसके नीचे आपको अपना नाम, एड्रेस, सिग्नेचर और मोबाइल नंबर जरूर दर्ज करना है।

बस कुछ इस प्रकार आप इन सरल स्टेप्स को ध्यान पूर्वक फॉलो करके हिंदी ने एप्लीकेशन कैसे लिखें यह अच्छी तरह से सिख सकते है। दरअसल, हिंदी में एप्लीकेशन कैसे लिखा जाता है इसके बारे में मैने ऊपर में आपको एक एक करके हर स्टेप्स को विस्तार से समझाने की कोशिश किया है।

Read Also : ऑनलाइन शिक्षा क्या है ऑनलाइन शिक्षा के फायदे और नुकशान जाने?

आवेदन के लिए आवश्यक बातें

क्या आप भी आवेदन लिखना चाहते हैं या लिख रहें है, यदि हां तो इस समय आपको किन बातों पर खास ध्यान देना है इसके बारे में पता होना जरूरी होता है। तो चलिए अब बगैर समय गवाएं इसके बारे में जान लेते हैं। जो कि इस प्रकार है

  • आवेदन लिखने वक्त इस बात का जरूर ध्यान दें की आवेदन पर ओवरराइट न करें।
  • आपको हमेशा आवेदन को कम शब्दों में और साफ सुथरा लिखने का प्रयत्न करते रहना चाहिए।

अलगअलग हिंदी आवेदन के फॉर्मेट

जैसे कि मैंने आपको अपने पोस्ट में पहले ही बताया है कि हिंदी आवेदन के कई सारे प्रकार होते है। अब हर अलग अलग प्रकार के आवेदन करने के फॉर्मेट भी अलग अलग प्रकार के होते है। तो चलिए अब बिना समय गंवाए जान लेते हैं स्कूल में आवेदन करने के लिए किस फॉर्मेट का उपयोग किया जाता है, इसके बारे में जान लेते हैं।

स्कूल को आवेदन कैसे लिखें?

यदि आप भी स्कूल को आवेदन लिखना चाहते हैं, तो उसके लिए आपको नीचे के स्टेप्स को फॉलो करना होगा। जो कि इस प्रकार है

  • सबसे पहले आपको आवेदन में बाय ओर “सेवा में” लिखना है और उसी पंक्ति के दाएं ओर आपको तारीख लिखना है।
  • अब आपको नीचे बाए ओर “श्रीमान प्रधानाध्यापक महोदय” लिखना होगा।
  • इसके ठीक नीचे आपको विषय लिखना होगा।
  • उसके बाएं ओर आपको अपना नाम आप जिस विद्यालय के छात्र है उसका नाम ये सब लिखना होगा।
  • फिर इसके नीचे पैराग्राफ चेंज करके आपको अपनी समस्या के बारे में लिखना होगा।
  • इसके बाद आपको लिखना है अतः श्रीमान से निवेदन या आग्रह है कि अपना कार्य लिखे और उसको करने की कृपा करें।
  • फिर इसके नीचे आपको अपना क्लास, नाम, रोल नंबर इत्यादि लिखकर दाएं ओर सिग्नेचर कर दीजिए।

निष्कर्ष

उम्मीद करता हूं कि आपको हमारा Application Kaise Likha Jata Hai का यह पोस्ट पसंद आया होगा। आज के लेख में मैंने आप सभी को आवेदन कैसे लिखा जाता है How To Write Application In Hindi जुड़ी हर महत्वपूर्ण जानकारी विस्तार से समझाने की कोशिश किया है। इसके साथ ही अगर आपको हमारे आज के इस एप्लीकेशन के पोस्ट को पढ़कर कोई भी सवाल पूछना हो तो आप कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं। साथ ही पोस्ट पसंद आए तो शेयर करना ना भूलें।


होम पेजयहाँ क्लिक करें
Share on:
you may also like this!

You cannot copy content of this page