Pregnancy Diet Chart in Hindi – गर्भावस्था खान पान की सूची

Pregnancy Diet Chart in Hindi के बारे में हम आज जानेगे कि प्रेगनेंसी के दोरान आपको कोन कोन सी चीजे खानी चाहिए और कोनसी चीजे आपको नहीं खानी चाहिए

एक गर्भवती महिलाओं को अपने डाइट पर खास ध्यान देने की आवश्यकता होती है। इस दौरान मां और बच्चें दोनों के हेल्थ का विशेष ध्यान रखना होता है। Pregnancy के दौरान शरीर में कई तरह के Hormonal Imbalance की वजह से कई प्रकार के चेंजेज होने लगते है। ऐसे में एक गर्भवती महिलाओं को कई चीजों पर ध्यान देने की जरूरत होती है।

तो क्या आप भी गर्भवती महिलाओं में से एक है, जिन्हें Pregnancy के दौरान क्या खाना चाहिए क्या नहीं इसके बारे में जानना है, यदि हां तो आपके लिए हमारा यह पोस्ट काफी महत्वपूर्ण साबित होने वाला है। क्योंकि आज के लेख में मैं आप सभी को Pregnancy Diet Chart in Hindi से जुड़ी हर महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने वाला हूं।

Pregnancy Diet Chart in Hindi
9 month Pregnancy Diet Chart in Hindi
Table Of Contents show

प्रेगनेंसी के दौरान क्या खाएं और क्या ना खाएं – Pregnancy Diet in Hindi

Pregnancy के दौरान महिला के पेट में पल रहें बच्चे के तेजी से विकास के लिए और बदलते शरीर की प्रतिक्रिया के लिए सभी आवश्यकताओं को पूर्ण करने के लिए आपकी पोषण से जुड़ी जरूरतें ज्यादा होती है। आपको अपने साथ ही साथ अपने बच्चे के लिए भी बेहतर पोषण के लिए क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए इसके बारे में पता होना जरूरी होता है 

क्योंकि एक गर्भवती महिला जो भी खाती है, उसका सीधा असर उसके बच्चे के हेल्थ पर पड़ती हैं। बाहर का खाना या खान पान पर विशेष ध्यान नहीं देने की वजह से इसका बुरा प्रभाव बच्चें पर पड़ती है, जो कि मां और बच्चे दोनों के लिए नुकसानदायक साबित होता है। क्योंकि गलत खान पान से गर्भवती महिला को थकान, एनीमिया, ऐंठन और कब्ज जैसी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

इसलिए जरूरी है कि एक गर्भवती महिलाओं को शुरू से यानी प्रेगनेंसी के स्टार्टिंग से ही अपने Diet Chart के अनुसार ही किसी भी चीज को खाना चाहिए। तो चलिए अब बिना समय गंवाए Pregnancy के स्टार्टिंग से लेकर अंत तक Pregnancy Diet Chart in Hindi से जुड़ी हर महत्वपूर्ण जानकारी साझा कर देते हैं।

भारत में गर्भावस्था आहार चार्ट | Pregnancy Diet Chart For Indian in Hindi

एक गर्भवती महिला के लिए उसके खाने के एक निवाले पर भी विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता होती हैं। ऐसे में चलिए अब हम बिना समय गंवाए Pregnancy के पहले महीने से लेकर 9 वे महीने तक क्या खाना चाहिए और क्या नहीं इसकी पूरी Diet Chart साझा कर देते है। जो कि इस प्रकार है

1 मंथ प्रेगनेंसी डाइट चार्ट – 1st month pregnancy diet chart in hindi

जैसा कि मैंने आप सभी को पहले भी बताया है कि प्रेगनेंसी के पहले महीने से ही महिला को अपने  खान पान पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता होती है। क्योंकि प्रेगनेंसी के दौरान ये 9 मंथ काफी महत्वपूर्ण महीने होते है। ऐसे में आपको 1 मंथ प्रेगनेंसी डाइट चार्ट क्या होनी चाहिए इसके बारे में जानकारी प्रदान कर देते है। जो कि इस प्रकार है

  • डेयरी – 1 मंथ प्रेगनेंसी में महिलाओं को जरूरी विटामिन, कैल्शियम, प्रोटीन और स्वस्थ फेट देना चाहिए।
  • फ्रूट इस मंथ के दौरान महिलाओं को एक दिन में 3 प्रकार के फ्रूट का सेवन करना चाहिए।
  • आयरन से भरपूर भोजन अब महिलाओं को आयरन से भरपूर भोजन जैसे कि ब्रेड, चुकंदर, बीन्स, सूखे मेवे और दलिया इत्यादि का सेवन करना चाहिए।
  • Folet foods – इसके बाद महिलाओं को फोलेट फूड्स में बीन्स, संतरे, अंडे, आलू और ब्रोकली जैसे चीजों का सेवन करना चाहिए।
  • Vitamin B6 – यदि आप केला, साबुत अनाज, नट्स जैसे चीजों का सेवन करना चाहिए। ताकि ये आपके उल्टी या मतली की प्रवृत्ति को दूर करने में मददगार साबित होता है।
  • मीठे खाद्य पदार्थ इसके साथ ही ध्यान रखने वाली बात यह है कि आपको प्रतिदिन खाने में 200 से 300 कैलरी यानी मीठे का सेवन करना चाहिए।

2 मंथ प्रेगनेंसी डाइट चार्ट – 2nd month pregnancy diet chart in hindi

एक गर्भवती महिला के लिए दूसरा महीना भी काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। क्योंकि इस महीने के दौरान बच्चे के अन्य भागों में तंत्रिकाओं, मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी जैसे पहले विकास की शुरुआत होती है। इसके साथ ही बच्चे के सरकुलेट्री सिस्टम और हार्टबिट का भी विकास होता है। अब प्रेगनेंसी के दूसरे महीने में डाइट चार्ट क्या होनी चाहिए उसकी जानकारी कुछ इस प्रकार दी गई है।

  • प्रोटीनयह महिलाओं के बच्चे की मांशपेशियों के विकास के लिए काफी जरूरी होता है। आपको कम वसा वाले पनीर और मछली को आपको अपने Diet Chart में शामिल करना चाहिए।
  • अधिक आयरन युक्त खाद पदार्थ  – गर्भवती महिलाओं को दूसरे महीने के दौरान अधिक आयरन युक्त खाद्य पदार्थ का सेवन करना जरूरी होता है।
  • कैलीशियम युक्त खाद्य पदार्थ महिलाओं को इस दौरान कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थ का सेवन करने की आवश्यकता होगी। डेयरी उत्पाद और पत्तेदार साग गर्भावस्था में सेवन करने के बेहतर ऑप्शन है।

3 मंथ प्रेगनेंसी डाइट चार्ट – 3rd month pregnancy diet chart in hindi

दरअसल, 3 मंथ में सबसे ज्यादा ध्यान रखने की आवश्यकता पड़ती है। क्योंकि इस महीने में आपको कई सावधानियां बरतने की आवश्यकता होगी। देखा जाए तो इस महीने के दौरान मिजाज, मतली, थकान, जल्दी जल्दी भूख लाने का अनुभव इत्यादि बढ़ जाती है। तो ऐसे में इस मंथ में आपको किस डाइट चार्ट को फॉलो करना चाहिए इसके बारे में जान लेते है।

  • कार्बोहाइड्रेटआपको अपने डाइट चार्ट में सबूत अनाज जैसे कार्ब्स के स्रोतों को शामिल करने की आवश्यकता होती है।
  • फ्रूटइस दौरान महिलाओं को ताजे फल का सेवन अवश्य करना चाहिए।
  • Vitamin B 6 – यह आपके मूड को ठीक करने में मददगार साबित होता है और मतली जैसी समस्या से राहत दिलाने का भी कार्य करता है। जैसे कि आपको विशेष तौर पर अंडे या खट्टे फल अपनी डाइट चार्ट में शामिल करनी चाहिए।
  • मांसइस दौरान बेहतर प्रोटीन के लिए मांस खनिज को अपने डाइट चार्ट में जरूर शामिल करें। हालांकि, आपको इसे अच्छी तरह से पका कर सेवन करने की आवश्यकता होगी।
  • आयरन एक गर्भवती महिला को इस दौरान आयरन लेना जारी रखने की आवश्यकता होती है।
  • फोलेट इस दौरान आपके हेल्थ के लिए संतरा, अंडे और ब्रोकली का सेवन करना ज्यादा अच्छा माना जाता है।

4 मंथ प्रेगनेंसी डाइट चार्ट – 4th month pregnancy diet chart in hindi

4 मंथ गर्भ के चरण का आवश्यक मंथ माना जाता है। इस चरण में आपको भयानक संवेदनाएं, घबराहट और मतली की परेशानी खत्म हो जाती हैं। यहां तक कि आपको इस महीने में बच्चे की हलचल के सिमटम्स दिखने लगते है। तो चलिए अब बेहतर पोषण के लिए आपको 4 मंथ प्रेगनेंसी में क्या खाना चाहिए इसके बारे में जान लेते है।

  • फैटी एसिडआपको इस अवस्था में जोखिम से बचाने के लिए जरूरी फैटी एसिड से भरपूर खाद्य पदार्थ का सेवन करने की आवश्यकता होगी।
  • ताजे फल इस दौरान आपको ताजे फल का सेवन करने की आवश्यकता होगी। इससे बच्चे के ग्रोथ में काफी वृद्धि होती है।
  • फाइबरदरअसल, आपको ऐसे साबुत अनाज या सब्जियों का सेवन करना है, जिसमें अधिक मात्रा में फाइबर पाया जाता है।
  • आयरन युक्त भोजनबच्चे के समुचित विकास के लिए आयरन युक्त भोजन का सेवन करना जरूरी होता है।
  • दूध और दूध से बने उत्पाद बच्चे की हड्डियों और दातों को कैल्शियम की आवश्यकता को पूरी करने के लिए आपको दूध और दूध से बने उत्पाद का सेवन करना होता है।

5 मंथ प्रेगनेंसी डाइट चार्ट – 5th month pregnancy diet chart in hindi

गर्भावस्था का 5वा महीना भी काफी महत्वपूर्ण होता है। इस महीने के दौरान महिलाओं को ज्यादातर अचार जैसे खट्टे या और कुछ मीठे खाने की इच्छा होती है। तो चलिए अब बिना समय गंवाए 5 मंथ प्रेगनेंसी डाइट चार्ट के बारे में जान लेते है। जो कि इस प्रकार है

  • अपने तरल पदार्थों का सेवन करेंआपको तरल पदार्थ में दूध का सेवन ज्यादा से ज्यादा करने की आवश्यकता होगी। क्योंकि आप इसका सेवन जितना अधिक करेंगे, उतना ही यह कब्ज जैसी समस्या से आपको दूर रखेगा।
  • साबुत अनाजआपको बच्चे की बेहतर ऊर्जा के लिए साबुत अनाज आयरन, विटामिन ई और बी कॉम्प्लेक्स जैसे चीजों का सेवन करना चाहिए।
  • हरी सब्जियांआपको ब्रोकली, पालक और अन्य हरी सब्जियों का सेवन करने की आवश्यकता होगी।
  • प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थबच्चे के विकास के लिए प्रोटीन सबसे अधिक महत्वपूर्ण होता है।
  • फल फल का सेवन करना आपके लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। इससे आपकी त्वचा में चमक बढ़ जाती है। इसके साथ ही बच्चे के विकास में भी यह आवश्यक माना जाता है।

6 मंथ प्रेगनेंसी डाइट चार्ट – 6th month pregnancy diet chart in hindi

यह महीना गर्भवती महिलाओं के लिए सभी महत्वपूर्ण महीने में से एक है। इस महीने में भी महिला को काफी ज्यादा सावधानी बरतने की आवश्यकता होगी। ऐसी स्थिति में महिला को उचित खान पान और एक हेल्दी डाइट चार्ट को फॉलो करने के लिए जरूरी होता है। जो कि इस प्रकार है

  • फलआपको इस मंथ में भी सोने डाइट चार्ट में फल को शामिल करना है। क्योंकि फल के सेवन से महिला स्वस्थ और कई समस्याओं से बची रहती है।
  • प्रोटीनआपको बच्चे के ग्रोथ के लिए अपने डाइट चार्ट में प्रोटीन को भी शामिल करना चाहिए। जैसे कि आप दूध, अंडे, फलियां, दाल और अन्य डेयरी प्रोडक्ट्स इत्यादि।
  • सब्जियांआपको अपने डाइट चार्ट में सब्जियों को शामिल करने की आवश्यकता होगी। यह आपके बेहतर पाचन और मल त्याग में मदद करती है।
  • फोलिक एसिडफोलिक एसिड जैसे चीज आपके बच्चे के मस्तिष्क के लिए बेहतर माना जाता है। इसके आपको कद्दू, अलसी, अनाज इत्यादि का सेवन करना महत्वपूर्ण साबित होता है।
  • कार्बोहाइड्रेटइस चरण में महिला के शरीर को सबसे अधिक ऊर्जा की आवश्यकता होती है। इसमें आपको दलिया, अनाज, गेंहू इत्यादि जैसे चीजों को डाइट चार्ट में शामिल करना चाहिए।
  • विटामिन सीआपको इस अवस्था में अंगूर, संतरे, नींबू इत्यादि जैसे चीजों को अपने Diet Chart में शामिल करना होता है।

7 मंथ प्रेगनेंसी डाइट चार्ट – 7th month pregnancy diet chart in hindi

यह गर्भावस्था का सबसे लास्ट चरण और सबसे विशेष चरण माना जाता हैं। इस मंथ में महिलाओं को सबसे अधिक ध्यान रखने की आवश्यकता होती हैं। इस महीने में बच्चे का ग्रोथ जल्दी जल्दी होता है। तो चलिए 7 मंथ प्रेगनेंसी डाइट चार्ट साझा कर देते है। जो कि इस प्रकार है

  • आयरन से भरपूर आहारबच्चे के दिमाग के विकास के लिए काफी जरूरी होता है। यह एनीमिया के खतरे को कम करता है। इसमें आपको सालमन, चिकन, दाल, बीन्स और पालक को अपने डाइट चार्ट में शामिल करना है।
  • फाइबर से भरपूर आहार आपको फाइबर से भरपूर्ण भोजन को अपने डाइट चार्ट में शामिल करना होता है।
  • प्रोटीन से भरपूर भोजन प्रोटीन आपके बच्चे के विकास के लिए काफी महत्वपूर्ण माना जाता है। इसलिए आपको पालक, चिकन, मांस इत्यादि को अपने डाइट चार्ट में शामिल करना है।
  • कैल्सियम से भरपूर भोजन आपके बच्चें की हड्डियों की संरचना के लिए कैल्सियम से भरपूर भोजन का सेवन करना चाहिए। इसके लिए आपको दूध, चिया सीड्स, सोया मिल्कआहार और चीज कैल्सियम का सेवन करना जरूरी होता है। 

8 मंथ प्रेगनेंसी डाइट चार्ट – 8th month pregnancy diet chart in hindi

यह महीना मां और बच्चे के लिए सबसे महत्वपूर्ण महीना माना जाता है। इस महीने में मां और बच्चे दोनों को हेल्दी रहना सबसे महत्वपूर्ण होता है। यह गर्भवती महिलाओं के लिए अंतिम महीने जैसे माना जाता है। तो चलिए अब बिना समय गंवाए 8 मंथ प्रेगनेंसी डाइट चार्ट साझा कर देते हैं। जो कि इस प्रकार है

  • आयरन युक्त खाद्य पदार्थ – आपको आयरन युक्त खाद्य पदार्थ का सेवन करना चाहिए।
  • विटामिन सी शरीर में आयरन के सेवन को सोखने में विटामिन सी को अपनी डाइट चार्ट में शामिल जरूर करें।
  • केले इस महीने के दौरान महिलाओं को केले का सेवन करना चाहिए, जिसमें कई सारे गुण पाए जाते है।
  • हरी सब्जियां महिलाओ को अपने बच्चे के बेहतर विकास के लिए हरी सब्जियां डाइट चार्ट में शामिल करना चाहिए।
  • जरूरी फैटी एसिड महिलाओं को इस चरण में जरूरी फैटी एसिड को अपने डाइट चार्ट में शामिल करना चाहिए।

9 मंथ प्रेगनेंसी डाइट चार्ट – 9th month pregnancy diet chart in hindi

एक गर्भवती महिला के लिए यह प्रेगनेंसी का लास्ट महीना होता है। इस महीने में महिलाओं को एक विशेष डाइट चार्ट को फॉलो करने की आवश्यकता होगी। क्योंकि यह महीना सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होता है।

  • अधिक कैल्सियम युक्त खाद्य पदार्थ – आपको बच्चे के बेहतर ग्रोथ के लिए अधिक कैल्सियम युक्त खाद्य पदार्थ का सेवन करना चाहिए।
  • विटामिन सी आपको इस मंथ के दौरा विटामिन सी जैसे गुण को अपने डाइट चार्ट में शामिल करना है।
  • आयरन से भरपूर भोजन आपको आयरन से भरपूर भोजन का सेवन करना चाहिए।
  • फोलिक एसिड आपको इस दौरान फोलिक एसिड का सेवन करना जरूरी होता है।

सामान्य प्रेगनेंसी आहार चार्ट – pregnancy diet chart in hindi

गर्भावस्था में आपको स्वस्थ भोजन लेना बहुत जरूरी होता है। इससे न केवल आपका स्वस्थ रहेगा, बल्कि आपके बच्चे का भी विकास सही ढंग से होगा। निम्नलिखित एक सामान्य गर्भावस्था आहार चार्ट है जो आपके लिए उपयोगी हो सकता है:

दिन का समयआहार
सुबह का नाश्ता1 कप दूध, 1 अंडा, 2 टोस्ट, और फल
दोपहर का भोजन1 कटोरा सब्जी, 1 कटोरा दाल, 2 रोटी, 1 कटोरा चावल, 1 कटोरा दही
शाम का नाश्ता1 फल, नमकीन मटर, और चाय
रात का भोजन1 कटोरा सब्जी, 1 कटोरा दाल, 2 रोटी, 1 कटोरा चावल, 1 कटोरा दही

यह सिर्फ एक सामान्य आहार चार्ट है। आपके डॉक्टर या न्यूट्रिशनिस्ट की सलाह के अनुसार आपको अपने आहार में बदलाव करने की आवश्यकता हो सकती है। साथ ही, ध्यान रखें कि आप अपने आहार में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट्स, फाइबर, फॉलिक एसिड और विटामिन समेत अन्य महत्वपूर्ण पोषक तत्वों को शामिल करें।

FAQ about pregnancy

Q1. गर्भावस्था के दौरान किस तरह का आहार लेना चाहिए?

गर्भावस्था के दौरान सही आहार लेना बहुत जरूरी है। आपको फल, सब्जियां, अंडे, दूध और दाल जैसे पौष्टिक आहार खाने चाहिए। आपको भोजन में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट्स, फाइबर, फॉलिक एसिड और विटामिन समेत अन्य महत्वपूर्ण पोषक तत्वों को शामिल करना चाहिए।

Q2. गर्भावस्था में कौन से आहार से बचना चाहिए?

गर्भावस्था के दौरान अल्कोहल, कैफीन और रिफाइंड सुगर से बचना चाहिए। साथ ही नमक, तेल, आलू और मीठे आहार की मात्रा कम कर देनी चाहिए।

Q3. गर्भावस्था के दौरान कितना पानी पीना चाहिए?

गर्भावस्था के दौरान दिन में कम से कम 8-10 गिलास पानी पीना चाहिए। यह आपके शरीर के तैराकी तंत्र को सुचारू रूप से

Q4. गर्भवती महिलाओं को बादाम का सेवन कब करना चाहिए?

गर्भवती महिलाओं को सुबह और शाम दोनों टाइम बादाम का सेवन करना चाहिए।

निष्कर्ष

आशा करता हूं कि आपको हमारा Pregnancy Diet Chart in Hindi का यह पोस्ट पसंद आया होगा। क्योंकि आज के लेख में मैंने आपको Pregnancy Diet Chart in Hindi से संबंधित हर महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान किया है। इसके साथ ही अगर आपको हमारा आज के इस डाइट चार्ट के पोस्ट को पढ़कर कोई सवाल पूछना हो, तो कमेंट करके पूछ सकते हैं।

Rate this post

Leave a Comment

You cannot copy content of this page